• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • लखनऊ: गायत्री प्रजापति की डिस्चार्ज अर्जी खारिज, 29 सितंबर को तय होंगे आरोप, ये है मामला

लखनऊ: गायत्री प्रजापति की डिस्चार्ज अर्जी खारिज, 29 सितंबर को तय होंगे आरोप, ये है मामला

अपहरण व छेड़छाड़ के मामले में गायत्री प्रजापति की अर्जी खारिज, 29 को तय होंगे आरोप .

अपहरण व छेड़छाड़ के मामले में गायत्री प्रजापति की अर्जी खारिज, 29 को तय होंगे आरोप .

Uttar Pradesh News : MP MLA कोर्ट के विशेष जज पवन कुमार राय ने अपहरण व छेड़छाड़ के मामले में गायत्री प्रसाद प्रजापति व आशीष शुक्ला की डिस्चार्ज अर्जी खारिज कर दी. दोनों को 29 सितंबर को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है. 29 को दोनों पर आरोप तय होंगे.

  • Share this:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति (Gayatri Prajapati) की डिस्चार्ज अर्जी एमपीएमएलए कोर्ट से खारिज हो गई. MP MLA कोर्ट के विशेष जज पवन कुमार राय ने अपहरण व छेड़छाड़ के मामले में मुल्जिम गायत्री प्रसाद प्रजापति व आशीष शुक्ला की डिस्चार्ज अर्जी को खारिज कर 29 सितंबर को कोर्ट में पेश होने का आदेश दिया है. 29 सितंबर को उनके खिलाफ आरोप तय किए जाएंगे. गायत्री प्रजापति के खिलाफ अपहरण और छेड़छाड़ का मामला दर्ज है. यह मामला 26 अक्टूबर 2016 को गोमतीनगर थाने में दर्ज कराया गया था. इस मामले में गायत्री प्रजापति और आशीष शुक्ला पर आरोप तय किए जाएंगे.

गौरतलब है कि गायत्री प्रजापति यूपी की अखिलेश सरकार में मंत्री रहे हैं. वह शुरू से ही विवादों से घिरे रहे. प्रजापति की डिस्चार्ज अर्जी एमपीएमएलए कोर्ट से खारिज होने के बाद बार फिर उनकी मुश्किलें बढ़ गई हैं. उन पर 29 सितंबर को आरोप तय किए जाने हैं. इसको लेकर कोर्ट ने दोनों आरोपियों को 29 सितंबर को पेश करने का आदेश जारी कर दिया है. यह मामला 26 अक्टूबर 2016 का है, जिसमें चित्रकूट की एक महिला ने थाना गोमती नगर में आईपीसी की धारा 294 504 व 506 में बबलू सिंह व आशीष शुक्ला के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई थी. विवेचना के दौरान इस मामले में गायत्री प्रजापति का भी नाम आया था. जांच में इस मामले में मुलाजिमों के खिलाफ अपहरण व छेड़छाड़ का भी आरोप पाया गया. 27 जुलाई 2017 को पुलिस ने अपहरण व छेड़छाड़ के आरोपों की बढ़ोतरी करते हुए आशीष के साथ ही गायत्री प्रजापति के खिलाफ आईपीसी की धारा 354 ए, 11, 364, 511, 504, 506 व 120 बी के तहत आरोप पत्र दाखिल किया था.

कोर्ट में नहीं हो पाई अंशु गौड़ की गवाही

गोमतीनगर थाने में दर्ज मामले में कोर्ट में गवाही होनी थी, लेकिन वह नहीं हो पाई. मामले के गवाह अंशु गौड़ को इस मामले में गवाही देनी थी. गायत्री प्रजापति के कोर्ट में न आने से अंशु गौड़ की गवाही नहीं हो पाई. अब 20 सितंबर को अंशु गौड़ की गवाही कराई जाएगी.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज