दिल्ली में संदिग्ध जैश आतंकी गिरफ्तार, पुलिस बोली- महंत नरसिंहानंद को मारने का था प्लान

डासना देवी मंदिर के महंत स्वामी यति नरसिंहानंद ने कहा कि वे  तैयारी के साथ बैठे हैं.

डासना देवी मंदिर के महंत स्वामी यति नरसिंहानंद ने कहा कि वे तैयारी के साथ बैठे हैं.

Ghaziabad News: आतंकी की गिरफ़्तारी के बाद एहतियातन मंदिर के महंत की सुरक्षा में पीएसी की एक बटालियन तैनात कर दी गयी है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक आरोपी जम्मू-कश्मीर का रहने वाला है और जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन के इशारे पर महंत की हत्या करने के लिए आया था.

  • Share this:

लखनऊ/गाजियाबाद. दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohmmad) के संदिग्ध आतंकी जान मोहम्मद (Jaan Mohammad) को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक गिरफ्तार आतंकी गाजियाबाद के डासना मंदिर के महंत नरसिंहानंद (Mahant Narsimhanand) की हत्या की फिराक में आया हुआ था. दिल्ली पुलिस ने उसके कब्जे से दो पिस्टल और कारतूस भी बरामद किया है. बता दें कि मसूरी थाना क्षेत्र स्थित डासना देवी मंदिर के महंत स्वामी यति नरसिंहानंद को पहले धमकियां मिल चुकी हैं. वह हमेशा से एक विशेष समुदाय के निशाने पर रहे हैं. यही कारण भी है कि उन्हें पूर्व में भी पीएफआई से जान से मारने की धमकी मिल चुकी है.

आतंकी की गिरफ़्तारी के बाद एहतियातन मंदिर के महंत की सुरक्षा के लिए पीएसी की एक बटालियन तैनात कर दी गयी है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक आरोपी जम्मू-कश्मीर का रहने वाला है और जैश-ए-मोहम्मद आतंकी संगठन के इशारे पर महंत की हत्या करने के लिए आया था. वहीं, दूसरी ओर महंत ने भी साफ लफ्जों में कहा है कि वो किसी से डरने वाले नहीं हैं. जिसको भी मारना है आ जाए, मैं भी पूरी तैयारी से इंतजार कर रहा हूं.

कमलेश तिवारी हत्याकांड की तर्ज पर देने वाला था वारदात को अंजाम

दिल्ली पुलिस के अनुसार, जान मोहम्मद साधु का भेष बनाकर महंत की हत्या करने की फिराक में था. वह अपने मकसद में कामयाब हो पाता उससे पहले दिल्ली पुलिस के स्पेशल सेल ने खुफिया एजेंसियों से मिले इनपुट के आधार पर एक ऑपरेशन में जान मोहम्मद डार उर्फ जहांगीर को गिरफ्तार कर लिया. पूछताछ में उसने बताया कि लखनऊ के कमलेश तिवारी हत्याकांड स्टाइल में साधु की वेशभूषा में वह स्वामी यति नरसिंहानंद को मारने वाला था.
आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने दिया था टारगेट

दिल्ली पुलिस की स्पेशल के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी को पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने यति नरसिंहानन्द को जान से मारने का टारगेट दिया था. आरोपी के पास से पिस्टल, 2 मैगजीन, 15 कारतूस, कलावा, पूजा में इस्तेमाल होने वाला टीका और साधुओं के पहनने वाले कपड़े समेत अन्य सामान बरामद हुए हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज