गोंडा एसिड अटैक: मायावती ने पूछा- आखिर UP में हर तरह का अपराध सिर चढ़कर क्यों बोल रहा है?

बसपा सुप्रीमो मायावती (File Photo)
बसपा सुप्रीमो मायावती (File Photo)

बसपा सुप्रीमो मायावती (Mayawati) ने ट्वीट किया है कि भू-माफियाओं द्वारा पुजारी की हत्या के प्रयास के बाद यूपी के गोंडा में ही सोते समय तीन दलित बहनों पर एसिड डालकर जलाने की प्रयास अति-दुःखद व शर्मनाक. यूपी में कानून-व्यवस्था का इतना बिगड़ जाना बड़ी चिन्ता की बात जरूर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 14, 2020, 10:31 AM IST
  • Share this:
गोंडा. उत्तर प्रदेश के गोंडा (Gonda) में तीन नाबलिग सगी बहनों पर एसिड अटैक (Acid Attack) की घटना से सियासत गरमा गई है. मामले में बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने योगी सरकार पर सवाल खड़े कर दिए हैं. मायावती ने घटना पर दुख जताते हुए ट्वीट कर कहा है कि यूपी में कानून व्यवस्था का इतना बिगड़ जाना चिंता की बात है. उधर गोंडा पुलिस (Gonda Police) ने मामले में फरार आरोपी को एनकाउंटर में गिरफ्तार कर लिया है. उसे गोली लगी है और अस्पताल में इलाज चल रहा है.

कानून व्यवस्था पर उठाए सवाल

मायावती ने ट्वीट किया है, “भू-माफियाओं द्वारा पुजारी की हत्या के प्रयास के बाद यूपी के गोंडा में ही सोते समय तीन दलित बहनों पर एसिड डालकर जलाने की प्रयास अति-दुःखद व शर्मनाक. यूपी में कानून-व्यवस्था का इतना बिगड़ जाना बड़ी चिन्ता की बात जरूर है. आखिर यूपी में हर प्रकार का अपराध सर चढ़कर क्यों बोल रहा है?”





ये है पूरा मामला

बता दें गोंडा के परसपुर थाना क्षेत्र के पसका गांव में 3 सगी बहनों पर तेजाब फेंक दिया गया था. इस सनसनीखेज वारदात में तीनों बहनें बुरी तरह झुलस गईं, जिनका इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है. पुलिस जांच में एक तरफा प्यार में एसिड फेंकने की बात सामने आई. आरोपी की पहचान होने के बाद इसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस की 4 टीमें लगाई गई थी.

एनकाउंटर में आरोपी गिरफ्तार

देर शाम स्वाट टीम ने आरोपी को करनैलगंज कोतवाली क्षेत्र के हुजूरपुर मोड़ के पास घेर लिया. पुलिस टीम को देखने के बाद आरोपी ने फायरिंग करते हुए भागने की कोशिश की लेकिन जवाबी कार्रवाई में घायल हो गया.

पुलिस ने घायल आरोपी को पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र और फिर जिला अस्पताल में भर्ती कराया है. अपर पुलिस अधीक्षक महेंद्र कुमार ने बताया कि एसिड अटैक के आरोपी को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपी के पैर में गोली लगी है. उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. आरोपी के पास से तमंचा व कारतूस भी बरामद किया गया है.



खिड़की से फेंका एसिड

तीनों पीड़ित लड़कियां सगी बहनें हैं. इन्हें दलित समुदाय का बताया गया है. बताया जा रहा है कि तीनों मकान की दूसरी मंजिल पर बने घर में सोई हुई थीं. घर की खिड़की खुली हुई थी. आरोपी ने दो मंजिला मकान पर चढ़कर खिड़की से तीनों के ऊपर एसिड फेंक दिया. घटना में दो बहनें मामूली रूप से घायल हैं, जबकि एक बहन के चेहरे और शरीर के अन्य हिस्सों पर भी एसिड पड़ा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज