Home /News /uttar-pradesh /

gorakhnath temple attack accused ahmad murtaza abbasi was ready for terror attack brainwashed through jehadis videos upat

गोरखनाथ मंदिर हमला: सिरफिरा नहीं शातिर है मुर्तजा, हमले के लिए था तैयार, जेहादी वीडियो दिखाकर हुआ ब्रेनवॉश

आरोपी मुर्तजा के पास से एटीएस को कई संदिग्‍ध चीजें मिली हैं जिनके आधार पर अब जांच की जा रही है. (फाइल फोटो)

आरोपी मुर्तजा के पास से एटीएस को कई संदिग्‍ध चीजें मिली हैं जिनके आधार पर अब जांच की जा रही है. (फाइल फोटो)

Gorakhnath Temple Attack: अब तक गोरखनाथ मंदिर हमले मामले की जांच कई शहरों तक पहुंची है. मुर्तजा अब्बासी (Murtaza Abbasi) बीते कुछ दिनों में मुंबई, कोयंबटूर, जामनगर और नेपाल के लुंबिनी में गया था. जानकारी के मुताबिक मुंबई एटीएस, गुजरात एटीएस और कोयंबटूर पुलिस से यूपी एटीएस ने संपर्क साधा है. नेपाल से भी जानकारी जुटाने की कार्यवाही शुरू हो गई है. सोमवार को कोर्ट ने मुर्तजा को पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. अब मुर्तजा अब्बासी के इन शहरों में कनेक्शन पर पूछताछ होगी.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. गोरखनाथ मंदिर में आतंकी हमले के मामले में पुलिस की जांच में कई अहम् खुलासे हो रहे हैं. अब तक जो बातें खुलकर सामने आ रही हैं, उसके मुताबिक अहमद मुर्तजा अब्बासी सिरफिरा या सनकी नहीं, बल्कि शातिर है. वह आतंकी हमले के लिए तैयार था. उसके मोबाइल और लैपटॉप से मिले वीडियोज से पता चला है कि जेहादी वीडियो दिखाकर उसका ब्रैनवॉश किया गया था. मिल रही जानकारी के मुताबिक वह जाकिर नाईक लोन वुल्फ अटैक के वीडियो देखा करता था. अब इस मामले में एटीएस उसके मुंबई और नेपाल कनेक्शन की जांच कर रही है. इस बीच एटीएस ने महराजगंज जिले से दो संदिग्धों को भी उठाया है. साथ ही एटीएस की एक-एक टीम नेपाल और मुंबई भी रवाना हो गई है.

अब तक गोरखनाथ मंदिर हमले (Gorakhnath Temple Attack) मामले की जांच कई शहरों तक पहुंची है. मुर्तजा अब्बासी (Murtaza Abbasi) बीते कुछ दिनों में मुंबई, कोयंबटूर, जामनगर और नेपाल के लुंबिनी में गया था. जानकारी के मुताबिक मुंबई एटीएस, गुजरात एटीएस और कोयंबटूर पुलिस से यूपी एटीएस ने संपर्क साधा है. नेपाल से भी जानकारी जुटाने की कार्यवाही शुरू हो गई है. सोमवार को कोर्ट ने मुर्तजा को पुलिस की कस्टडी रिमांड पर भेज दिया है. अब मुर्तजा अब्बासी के इन शहरों में कनेक्शन पर पूछताछ होगी.

11 अप्रैल तक पुलिस कस्टडी

विवेचक के मुताबिक, आरोपी के कई जगहों से संबंध सामने आ रहे हैं, इसलिए तमाम तथ्यों को परखने के लिए उसे 14 दिन के लिए पुलिस की कस्टडी रिमांड में मांगा गया था. पुलिस की इस अर्जी पर कोर्ट ने सात दिन के लिए मुर्तजा अब्बासी को कस्टडी में देने का आदेश दिया है. वह आज (4 अप्रैल) की शाम 8 बजे से 11 अप्रैल की दोपहर 2 बजे तक पुलिस की कस्टडी में रहेगा. इसके साथ पुलिस की पूछताछ के रास्‍ते खुल गए हैं. वहीं, हमले को लेकर कई राज खुलने की उम्‍मीद है, क्‍योंकि यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार और एसीएस होम अवनीश अवस्‍थी पहले ही कह चुके हैं कि यह आतंकी हमला हो सकता है. इसके साथ दोनों ने इसके पीछे बड़ी साजिश होने की भी संभावना जताई है.

यूट्यूब पर जिहाद का वीडियो देखता था

बता दें कि आरोपी अहमद मुर्तजा अब्बासी गोरखपुर शहर के ही सिविल लाइंस में रहने वाले मुनीर अहमद का बेटा है. उसने आईआईटी बॉम्बे से केमिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है. जबकि आरोपी के पिता भी इंजीनियर हैं. साथ ही पता चला है कि मुर्तजा का परिवार पहले मुंबई में ही रहता था, लेकिन अक्‍टूबर 2020 में वह गोरखपुर आकर सिविल लाइंस में बस गया.

मुर्तजा की दिमागी हालत ठीक नहींःपिता

हालांकि आरोपी के पिता का कहना है कि उसकी दिमागी हालत ठीक नहीं है. वैसे पुलिस की जांच पड़ताल में अब तक इस बात का खुलासा हो चुका है कि आरोपी अहमद मुर्तजा अब्बासी यूट्यूब पर न सिर्फ जिहाद से संबंधित वीडियो देखता था बल्कि वह अक्‍सर जिहादी विचारों से जुड़ी हुई वेबसाइट भी सर्च करता था. इसके अलावा वह जिहादी विचारधारा वाले धार्मिक नेताओं को फॉलो करता था. वहीं, अहमद मुर्तजा अब्बासी के ‘लोन वुल्‍फ अटैक’ के वीडियो देखने की बात भी सामने आयी है.

Tags: Gorakhnath Temple Attack, Lucknow crime news, UP latest news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर