• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • सरकार नहीं करा पा रही मुलायम की मर्सिडीज की सर्विसिंग, अब देगी प्राडो

सरकार नहीं करा पा रही मुलायम की मर्सिडीज की सर्विसिंग, अब देगी प्राडो

प्रदेश सरकार की संपत्ति विभाग मुलायम सिंह यादव की मिली मर्सिडीज एसयूवी को बदलने का फैसला किया है.

प्रदेश सरकार की संपत्ति विभाग मुलायम सिंह यादव की मिली मर्सिडीज एसयूवी को बदलने का फैसला किया है.

मुलायम सिंह की मर्सिडीज कार में कुछ टेक्निकल खराबी आ गई थी. इस गाड़ी के मरम्मत में 26 लाख रुपए का बजट बना है और राज्य संपत्ति और सुरक्षा शाखा विभाग एक दूसरे को पत्र लिख रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:
    उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव को एक बड़ा झटका दिया है. प्रदेश सरकार की संपत्ति विभाग ने मुलायम सिंह यादव को मिली मर्सिडीज एसयूवी को बदलने का फैसला किया है. दरअसल राज्य संपत्ति विभाग के पास मात्र दो मर्सिडीज एसयूवी ही उपलब्ध है. एक एसयूवी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पास है, जबकि दूसरी मुलायम सिंह यादव के पास है.

    बता दें कि हाल में मुलायम सिंह की मर्सिडीज कार में कुछ टेक्निकल खराबी आ गई थी. इस गाड़ी के मरम्मत में 26 लाख रुपए का बजट बना है. जिसको लेकर राज्य संपत्ति और सुरक्षा शाखा विभाग एक दूसरे को पत्र लिख रहे हैं. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार दोनों ही विभागों के पास मुलायम सिंह यादव की गाड़ी सर्विस कराने का बजट नहीं है. ऐसे में माना जा रहा है कि राज्य सरकार मुलायम सिंह यादव को  बजट टोयोटा प्राडो गाड़ी उपलब्ध करा सकती है. फिलहाल मुलायम सिंह यादव बीएमडब्लू की कार का इस्तेमाल कर रहे हैं.

    मुलायम परिवार से छिनी लोहिया ट्रस्ट की बिल्डिंग
    गौरतलब है कि हाल ही में योगी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मुलायम परिवार से लोहिया ट्रस्ट की बिल्डिंग छीन ली है. राज्य संपत्ति विभाग ने विक्रमादित्य मार्ग पर स्थित लोहिया ट्रस्ट का बंगला खाली करा लिया है. बता दें कि मुलायम सिंह यादव ट्रस्ट के अध्यक्ष और शिवपाल सिंह यादव सचिव हैं. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव और कई शीर्ष नेता ट्रस्ट के सदस्य हैं.

    वहीं प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि परिवार में अभी भी एकता की गुंजाइश है. इसके बाद से अटकल लगाए जा रहे हैं कि शिवपाल यादव समाजवादी पार्टी में शामिल हो सकते हैं. साथ ही शिवपाल ने कहा कि कुछ षड्यंत्रकारी लोग परिवार को एक होने नहीं देना चाह रहे हैं. शिवपाल यादव का इशारा आज़म खान की तरफ है.

    ये भी पढ़ें: 

    मोदी सरकार ने खत्म किया मिनिमम अल्टरनेट टैक्स, ये होगा असर

    New Traffic Rules: गडकरी बोले- नए मोटर एक्ट को लेकर ज्यादातर राज्य सहमत

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज