Home /News /uttar-pradesh /

महात्मा गांधी की 69वीं पुण्यतिथि पर राज्यपाल राम नाईक ने दी श्रद्धांजलि

महात्मा गांधी की 69वीं पुण्यतिथि पर राज्यपाल राम नाईक ने दी श्रद्धांजलि

भारत के राष्ट्रपिता और सत्य और अहिंसा के सबसे बड़े पुजारी महात्मा गांधी की आज 69वीं पुण्यतिथि है. दुनिया को सत्य और अहिंसा का सबसे ताकतवर हथियार देने वाले महापुरुष महात्मा गांधी की आज ही के दिन सन् 1948 में हत्या कर दी गई थी.

भारत के राष्ट्रपिता और सत्य और अहिंसा के सबसे बड़े पुजारी महात्मा गांधी की आज 69वीं पुण्यतिथि है. दुनिया को सत्य और अहिंसा का सबसे ताकतवर हथियार देने वाले महापुरुष महात्मा गांधी की आज ही के दिन सन् 1948 में हत्या कर दी गई थी.

भारत के राष्ट्रपिता और सत्य और अहिंसा के सबसे बड़े पुजारी महात्मा गांधी की आज 69वीं पुण्यतिथि है. दुनिया को सत्य और अहिंसा का सबसे ताकतवर हथियार देने वाले महापुरुष महात्मा गांधी की आज ही के दिन सन् 1948 में हत्या कर दी गई थी.

भारत के राष्ट्रपिता और सत्य और अहिंसा के सबसे बड़े पुजारी महात्मा गांधी की आज 69वीं पुण्यतिथि है. दुनिया को सत्य और अहिंसा का सबसे ताकतवर हथियार देने वाले महापुरुष महात्मा गांधी की आज ही के दिन सन् 1948 में हत्या कर दी गई थी.

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 69वीं पुण्यतिथि पर आज पूरा देश उनको श्रद्धांजलि दे रहा है. इसी कड़ी में लखनऊ के जीपीओ पार्क स्थित महात्मा गांधी की मूर्ती पर राज्यपाल राम नाईक ने भी माल्यार्पण करने के बाद दो मिनट का मौन रखा. साथ ही इस मौके पर राष्ट्रपिता को याद किया. इस दौरान स्कूली बच्चों ने भी भजन गाकर राष्ट्रपिता को सच्ची श्रद्धांजलि दी.

इस मौके पर राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि राष्ट्रपिता की पुण्यतिथि के साथ-साथ यह दिन शहीद दिवस के नाते भी मनाया जाता है. जिन्होंने देश के आजादी के लिए बलिदान किया उन्हें आज के दिन याद किया जाता है.

बता दें, कि सन् 1948 में गांधी जी दिल्ली के बिरला हाउस में एक प्रार्थना सभा में हिस्सा लेने जा रहे थे, तभी नाथूराम गोडसे ने गांधी जी पर गोलियां दाग दी थीं. जब तक किसी को कुछ समझ आता बापू का निधन हो चुका था.  गोडसे ने बापू पर तीन गोलियां चलाई थीं और तब बापू के मुंह से निकला था 'हे राम'.

बापू की 69वीं पुण्यतिथि पर  उनको पूरा देश याद कर रहा है .रविवार को पीएम मोदी ने भी लोगों से 'मन की बात' कार्यक्रम में अपील की थी कि वो आज 11 बजे दो मिनट का मौन रखकर बापू समेत तमाम शहीदों को श्रद्धांजलि दें.

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर