Hathras Case: फटे कपड़ों में दिल्ली महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन का फोटो वायरल, DCP ने बताई सच्चाई

अमृता धवन के वायरल फोटो का फैक्ट चेक. (सांकेतिक चित्र)
अमृता धवन के वायरल फोटो का फैक्ट चेक. (सांकेतिक चित्र)

सोशल मीडिया (Social Media) पर फोटो वायरल होने के बाद DCP वृंदा शुक्ला ने भी एक ट्वीट किया और नोएडा पुलिस पर लगे सारे इल्जामों को सिरे से नकार दिया. 

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 9:52 PM IST
  • Share this:
दिल्ली. उत्तर प्रदेश के हाथरस (Hathras Kand) मामले के बाद सियासत गरमा गई है. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi) और यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) भी हाथरस पहुंचे, लेकिन पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया. राहुल और प्रियंका की गिरफ्तारी के बाद कांग्रेसियों में आक्रोश बढ़ गया. रानीपुर में चक्काजाम हुआ. मऊरानीपुर में विरोध प्रदर्शन कर रहे यूपी किसान कांग्रेस के अध्यक्ष शिवनारायण परिहार को भी हिरासत में लिया गया. इन सबके बीच एक फोटो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल (Photo Viral) हो रही है. फोटो में एक महिला को दिखा रही है और उसे दिल्ली महिला कांग्रेस अध्यक्ष अमृता धवन बताया जा रहा है.

दरअसल, एक ट्विटर यूजर ने अपने अकाउंट से एक फोटो ट्वीट किया. पिक्चर से साथ यूजर ने लिखा, उत्तरप्रदेश पुलिस की आज की सबसे शर्मनाक घटना यह तस्वीर है जिसमें पुलिस ने दिल्ली महिला कांग्रेस की अध्यक्ष अमृता धवन के कपड़े फाड़ दिए. तो वहीं इस ट्वीट पर अमृता धवन ने भी अपने ट्विटर अकाउंट से कमेंट किया. उन्होंने लिखा,  योगी-मोदी के संस्कारों का प्रमाण है. ये Face with cold sweat ताक़त दिखानी है तो अपराधियों को दिखाओ , हमारा चीर हरण करके क्या हासिल होगा ??? याद रखना द्रौपदी चीर हरण और सीता हरण का अंत कहां जाकर थमा था. वायरल हो रही इस तस्वीर पर Noida DCP woman safety ने भी कमेंट किया है.

DCP वृंदा शुक्ला का ट्वीट





DCP ने बताया फोटो का पूरा सच

सोशल मीडिया पर ये फोटो जमकर वायरल हो गया. ट्विटर यूजर के इस ट्वीट पर नोएडा डीसीपी वूमन सेफ्टी ने भी कमेंट किया और पूरे मामले की सच्चाई बताई. वृंदा शुक्ला ने अपने ट्वीट में लिखा, मैं इस पूरे प्रदर्शन के दौरान वहां उपस्थित थी और बहुत भारी संख्या में महिला पुलिस कर्मी ड्यूटी पर तैनात थे. नोएडा द्वारा इस प्रकार का कोई भी कार्य किसी भी महिला की मर्यादा के विरुद्ध नहीं किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज