Assembly Banner 2021

सीएम योगी से 'अधूरी' एंबुलेंस का उद्घाटन कराने की जांच शुरू, सीएमओ देंगे रिपोर्ट

13 अप्रैल को सीएम योगी आदित्यनाथ प्रदेश के लिए 150 एएलएस एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाते हुए. Photo: News 18 Hindi

13 अप्रैल को सीएम योगी आदित्यनाथ प्रदेश के लिए 150 एएलएस एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाते हुए. Photo: News 18 Hindi

सीएम योगी से 'आधी-अधूरी' एंबुलेंस के उद्घाटन कराने के मामले में स्वास्थ्य विभाग ने जांच के आदेश दे दिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 16, 2017, 12:45 PM IST
  • Share this:
सीएम योगी से 'आधी-अधूरी' एंबुलेंस के उद्घाटन कराने के मामले में स्वास्थ्य विभाग ने जांच के आदेश दे दिए हैं. इसके तहत प्रदेश के सभी जिलों के सीएमओ को निर्देश दिए गए हैं कि उनके यहां पहुंचने वाली एंबुलेंस की जांच करें.

यह भी पढ़ें: योगी सरकार की एडवांस एबुलेंस का हाल, उद्घाटन होते ही पहुंच गईं वर्कशॉप

दरअसल 13 अप्रैल को सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश के हर जिले में दो—दो एएलएस एंबुलेंस को हरी झंडी दिखाई थी. 150 एंबुलेंस को सीएम आवास से सीधे जिलों के लिए रवाना हो जाना था. लेकिन पता चला कि कई एंबुलेंस यहां सीधे गैराज पहुंच गईं. इन एंबुलेंस में कोई मेडिकल उपकरण या किट आदि लगी ही नहीं थी.



यह भी पढ़ें: सीएम योगी ने किया एडवांस लाइफ सपोर्ट एंबुलेंस सेवा का शुभारंभ
मामला मीडिया में आया तो स्वास्थ्य विभाग हरकत में आ गया. अब एनएचएम के निदेशक आलोक कुमार ने सभी जिलों के डीएम को इन एंबुलेंस की जांच करने के आदेश दिए हैं. सीएमओ जांच के बाद रिपोर्ट देंगे कि एंबुलेंस मानकों पर खरी हैं या नहीं. यही नहीं मामे में कंपनियों के अधिकारियों को भी तलब कर लिया गया है.

यह भी पढ़ें: समाजवादी पार्टी ने जारी किया 'ड्रेस कोड'

स्वास्थ्य विभाग अब जांच रिपोर्ट आने के बाद दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने के दावे कर रहा है. साथ ही कहा गया है कि सीएमओ से रिपोर्ट मिलने के बाद ही एएलएस एंबुलेंस के संचालन के लिए कंपनी को पैसा दिया जाएगा. एंबुलेंस का संचालन जीवीके-ईएमआरआई कंपनी को करना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज