UP कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को राहत नहीं, जमानत अर्जी पर 1 जून तक के लिए टली सुनवाई
Lucknow News in Hindi

UP कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को राहत नहीं, जमानत अर्जी पर 1 जून तक के लिए टली सुनवाई
अजय कुमार लल्लू को बसों के कागजों में फर्जीवाड़ा के आरोप में गिरफ्तार किया गया था. (फाइल फोटो)

एमपी-एमएलए कोर्ट (MP-MLA Court) ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष (UP Congress President) अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) की जमानत अर्जी पर सुनवाई 1 जून तक के लिए टाल दी है.

  • Share this:
लखनऊ. एमपी-एमएलए कोर्ट (MP-MLA Court) के विशेष न्यायाधीश पीके राय ने उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष (UP Congress President) अजय कुमार लल्लू (Ajay Kumar Lallu) की जमानत अर्जी पर सुनवाई 1 जून तक के लिए टाल दी. बस विवाद में गिरफ्तार अजय कुमार लल्लू का मामला सांसदों और विधायकों से संबंधित मामलों की सुनवाई के लिए बनी विशेष अदालत में चल रही है.

अदालत ने यह आदेश जिला शासकीय अधिवक्ता मनोज त्रिपाठी की ओर से पेश इस तर्क के मद्देनजर पारित किया कि इस मामले की जांच 3 टीमें कर रही हैं. मामले के विवेचक भी उन्हीं टीमों के साथ जांच के लिए बाहर गए हुए हैं. अतः इस मामले की अब तक कि विवेचना का ब्यौरा पेश करने के लिए अभियोजन पक्ष को और समय की आवश्यकता है.’

फर्जीवाड़ा के आरोप में किए गए थे गिरफ्तार
इस पर अदालत ने सुनवाई के लिए अगली तारीख एक जून तय कर दी. साथ ही अदालत ने अभियोजन पक्ष को उस दिन मामले की विवेचना से संबंधित जानकारी पेश करने को कहा है. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू बस विवाद में जेल में हैं. उन्हें 20 मई को आगरा में अवैध रूप से धरना-प्रदर्शन करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था लेकिन उन्हें उसी दिन जमानत मिल गई. हालांकि इसके तुरंत बाद लखनऊ पुलिस ने उन्हें दूसरे मामले में गिरफ्तार कर लिया. उन पर आरोप है कि बसों के कागजों में फर्जीवाड़ा किया गया.



हवन यज्ञ का आयोजन


प्रदेश कांग्रेस द्वारा जारी एक बयान के अनुसार अजय कुमार लल्लू की रिहाई के लिए और राज्य की योगी सरकार के खिलाफ भारतीय युवा कांग्रेस के सचिव और प्रदेश प्रभारी मनीष चौधरी के निर्देश पर पूरे प्रदेश में रविवार को हवन यज्ञ का आयोजन किया गया. इसी क्रम में प्रदेश की राजधानी लखनऊ के प्रदेश युवा कांग्रेस कार्यालय में ‘सद्बुद्धि’ हवन यज्ञ का आयोजन किया गया. हवन यज्ञ के द्वारा सभी युवा कांग्रेसजनों ने प्रदेश अध्यक्ष की तत्काल रिहाई के लिए योगी सरकार को सद्बुद्धि प्रदान करने के लिए ईश्वर से कामना की.

लल्लू के साथ हमारी पूरी सहानुभूति: केशव प्रसाद मौर्य
इस बीच प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इस मामले पर कहा, ‘कांग्रेस ने फोटो खिंचवाने के लिए अजय कुमार लल्लू को भेजा था और उन्होंने महामारी अधिनियम को गंभीरता से नहीं लिया. इसी वजह से उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. यह एक न्यायिक प्रक्रिया है और इसमें प्रदेश सरकार का कोई लेना देना नहीं है, अगर अदालत उन्हें जमानत दे देती है तो वह रिहा हो जाएंगे.’ उन्होंने कहा, ‘मेरा सोचना है कि कांग्रेस के कुछ नेताओं ने साजिश के तहत लल्लू को आगे कर दिया, इसलिए वह जेल चले गए. यूपी सरकार और पुलिस की मंशा उनके खिलाफ नहीं है. हमारी पूरी सहानुभूति लल्लू जी के साथ है.'

ये भी पढ़ें - 

NDA 2.0 के एक साल पूरा होने पर बोले CM शिवराज सिंह- मोदी नाम में छुपा है मंत्र

दिल्‍ली में Corona विस्‍फोट से हरियाणा सतर्क, सीमाएं सील
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading