vidhan sabha election 2017

श्रीश्री रविशंकर द्वारा किये जा रहे प्रयास से मिलेगी सफलता: चक्रपाणि महाराज

ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 15, 2017, 4:58 PM IST
श्रीश्री रविशंकर द्वारा किये जा रहे प्रयास से मिलेगी सफलता: चक्रपाणि महाराज
श्रीश्री ​रविशंकर के साथ मुलाकात करते स्वामी चक्रपाणि महाराज. News 18 Hindi
ETV UP/Uttarakhand
Updated: November 15, 2017, 4:58 PM IST
राम मंदिर मसले के हल को लेकर मध्यस्थता करने के आर्ट आॅफ लिविंग के संस्थापक श्रीश्री रविशंकर के ऐलान के बाद मुद्दा एक बार फिर से गरमाता दिख रहा है.

श्रीश्री रविशंकर बुधवार को लखनऊ पहुंचे. यहां उनकी सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात हुई. इसके बाद वह डालीगंज स्थित अमरनाथ मिश्र के घर चले गए. यहां भी उनकी कई लेागों से मुलाकात हुई. इसमें अखिल भारत हिन्दू महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी  चक्रपाणि महाराज भी थे.

श्रीश्री रविशंकर से मुलाकात के बाद चक्रपाणि महाराज ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि श्रीश्री रविशंकर द्वारा किये जा रहे प्रयास से सफलता मिलेगी. राम जन्मभूमि पर ही मंदिर का निर्माण होगा. चक्रपाणि ने कहा कि मस्जिद के निर्माण के लिए अलग से बात होगी.

इससे पहले श्रीश्री रविशंकर से मुलाकात करने पहुंचे बीजेपी नेता विनय कटियार ने कहा कि हाइकोर्ट ने राम जन्मभूमि मानकर बंटवारा कर दिया है. लड़ाई राम जन्मभूमि की नहीं है, उसके बंटवारे के खिलाफ है.

उन्होंने कहा कि आपसी भाईचारे से हल निकालना सर्वोत्तम है. श्रीश्री रविशंकर, चक्रपाणि महाराज सकारात्मक प्रयास कर रहे हैं. वहीं शिया वक्फ बोर्ड के प्रस्ताव पर बीजेपी नेता ने कहा कि राम मंदिर को लेकर शिया वक्फ बोर्ड का ही प्रस्ताव व्यवहारिक है.

बता दें कि श्रीश्री रविशंकर ने अयोध्या मसले के हल को लेकर मध्यस्थता की पेशकश की है. इस सिलसिले में उन्हें 16 नवंबर को अयोध्या जाना है.
First published: November 15, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर