लाइव टीवी

मोबाइल फोन से खुलेगा हिंदूवादी नेता रंजीत बच्चन की हत्या का राज, मौसेरे भाई आदित्य से पूछताछ जारी

News18Hindi
Updated: February 2, 2020, 6:24 PM IST
मोबाइल फोन से खुलेगा हिंदूवादी नेता रंजीत बच्चन की हत्या का राज, मौसेरे भाई आदित्य से पूछताछ जारी
मोबाईल फोन से खुलेगा हिंदूवादी नेता रंजीत बच्चन की हत्या का राज. (फाइल फोटो)

Ranjeet Bachchan Murder: एडिशनल पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा ने बताया कि हत्‍याकांड की जांच के लिए कुल आठ टीमों को लगाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 2, 2020, 6:24 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रविवार सुबह विश्व हिंदू महासभा के अध्यक्ष रणजीत बच्चन (Ranjeet Bachchan) की बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर उनकी हत्‍या कर दी. इस हत्याकांड को लखनऊ के पॉश इलाकों में से एक हजरतगंज में अंजाम दिया गया. लखनऊ के एडिशनल पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा ने बताया कि घटनास्थल से मृतक रंजीत बच्चन के दो मोबाइल बरामद हुए हैं. साइबर सेल की एक टीम मोबाइल डेटा खंगालने में लगी है. वहीं, सीसीटीवी फुटेज को भी खंगाला जा रहा है.

पहली पत्नी से था विवाद
फायरिंग में घायल मौसेरे भाई आदित्य से पुलिस की टीम पूछताछ कर रही है. उन्होंने बताया कि गोरखपुर में अंतरराष्‍ट्रीय हिंदू महासभा के अध्यक्ष रंजीत बच्चन का पहली से विवाद चल रहा है. एडिशनल पुलिस कमिश्नर नवीन अरोड़ा के मुताबिक, मामले की जांच में कुल आठ टीमों को लगाया गया है. मृतक रंजीत बच्चन के खिलाफ गोरखपुर जिले में एक एफआईआर भी दर्ज है. पुलिस हर एंगल पर जांच पड़ताल में जुटी है.

 मौसेरा भाई आदित्य श्रीवास्तव
मौसेरा भाई आदित्य श्रीवास्तव


चार पुलिसकर्मी सस्पेंड
नवीन अरोड़ा ने बताया कि हिंदूवादी नेता रंजीत बच्चन की हत्या में बदमाशों ने मुंगेर की बनी .32 बोर के पिस्टल का इस्तेमाल किया था. घटना के बाद लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने चार पुलिसकर्मी को सस्पेंड कर दिया है. चौकी इंचार्ज (परिवर्तन चौक) संदीप तिवारी समेत परिवर्तन चौक के पीआरवी पर तैनात तीन पुलिसकर्मी पर लापरवाही पर कार्रवाई की गई है.

मौसेरा भाई आदित्य भी घायलघटना सुबह करीब साढ़े 6 बजे की बताई जा रही है. रंजीत बच्चन अपने मौसेरा भाई आदित्य श्रीवास्तव के साथ मॉर्निंग वॉक पर निकले थे. जब वह ग्लोब पार्क से निकल रहे थे तभी बाइक सवार बदमाशों ने उनके सिर में गोली मार दी. इस वारदात में मौसेरा भाई आदित्य भी घायल हुए हैं, जिनका इलाज ट्रामा सेंटर में चल रहा है. हत्या की वजह का पता नहीं चल पाया है. पुलिस तफ्तीश में जुटी है. बता दें कि पिछले साल हिंदूवादी नेता कमलेश तिवारी की भी उनके ही घर में घुसकर हत्या कर दी गई थी. अब रंजीत बच्चन की हत्या से कई सवाल खड़े हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

हिंदूवादी नेता रंजीत बच्चन की हत्या में अहम खुलासा, मुंगेर की बनी .32 बोर के पिस्टल का हुआ इस्तेमाल!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 2, 2020, 12:27 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर