vidhan sabha election 2017

हादसों पर लगाम: मानव रहित क्रॉसिंग पर तैनात होंगे होमगार्ड

NAVEEN LAL SURI | News18Hindi
Updated: December 8, 2017, 8:55 AM IST
हादसों पर लगाम: मानव रहित क्रॉसिंग पर तैनात होंगे होमगार्ड
मानव रहित रेलवे क्रासिंग की फाइल फोटो.
NAVEEN LAL SURI | News18Hindi
Updated: December 8, 2017, 8:55 AM IST
रेल दुर्घटनाओं को रोकने के लिए अब रेलवे जल्द ही मानव रहित क्रॉसिंग पर यूपी पुलिस के होमगार्ड की तैनाती करने जा रही है. रेलवे और होमगार्ड विभाग के बीच मसौदा तैयार हो चुका है. जिस पर अंतिम मुहर भी लग चुकी हैं. पहले चरण में 425 होमगार्डों को पूर्वांचल के मानव रहित रेलवे क्रासिंगों पर तैनात जाएगा.

यूपी होमगार्ड विभाग के डीजी सूर्य कुमार शुक्ला ने न्यूज18 हिंदी से खास बातचीत में बताया कि रेलवे द्वारा प्रथम चरण में प्रदेश के 11 जिलों में मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग पर होमगार्ड के जवानों को लगाए जाने के लिए पत्र लिखा गया था.

इसी कड़ी में पूर्वांचल के जिले गोरखपुर, अंबेडकरनगर, फैजाबाद, इलाहाबाद, प्रतापगढ़, रायबरेली, सुल्तानपुर, जौनपुर, अमेठी, बाराबंकी, उन्नाव और लखनऊ में होमगार्ड के जवानों की तैनाती एक हफ्ते के अंदर कर दी जाएगी. वहीं प्रथम चरण में 425 होमगार्डों को अलग-अलग जिलों में तैनात किया जाएगा.

पहले चरण में 425 होमगार्ड होंगे तैनात:

डीजी होमगार्ड बताते हैं कि रेलवे के 143 मानव रहित क्रासिंग में 8-8 घंटे की तीन शिफ्ट में 425 होमगार्डों की तैनात किए जाएंगे. इस बाबत सभी जिलों के होमगार्ड विभाग को निर्देश दे दिए गए हैं ताकि  अपने अपने जिलों में तैनाती के लिए होमगार्डों का चयन कर लें.

हाईटेक सुविधाओं से होंगे लैस:
डीजी सूर्य कुमार शुक्ला ने बताया कि रेलवे द्वारा ड्यूटी पर तैनात होमगार्ड को एक मोबाइल फोन उपलब्ध कराया जाएगा, जिससे वह निकट के रेलवे कार्यालय एवं रेलवे कंट्रोल रूम से संपर्क कर सकेंगे. इसके अलावा रेलवे द्वारा उन्हें परिचय पत्र भी दिया जाएगा. इन होमगार्डों को तीन शिफ्टों में 8-8 घंटे की ड्यूटी पर सुबह दोपहर और शाम को लगाया गया है.

MOU हुआ साइन:
इस बाबत नॉर्दन रेलवे दिल्ली के सीपीआरओ नितिन चौधरी ने बताया कि जैसे ही होमगार्ड के ये जवान हम लोगों को मिलेंगे हम लोगों तत्काल उनकी तैनाती मानव रहित क्रासिंगों पर कर देंगे. उन्होंने बताया कि नॉर्थन रेलवे लखनऊ मंडल और यूपी होमगार्ड विभाग के बीच 6 दिसम्बर को MOU साइन हो चुका है. चौधरी का दावा है कि आने वाले एक हफ्ते के अंदर मानव रहित क्रासिंग पर इन होमगार्डों की तैनाती कर दी जाएगी.

रेलवे करेगी ड्यूटी भत्ते का भुगतान:
हमारा मकसद मानव रहित क्रासिंग पर होने वाले रेल हादसों को रोकना हैं. नितिन चौधरी की मानें तो इन होमगार्डों को ड्यूटी भत्ते का 325 रुपए प्रतिदिन के दर से भुगतान प्रत्येक माह के प्रथम सप्ताह में उनके एकाउंट में रेलवे द्वारा किया जाएगा.

चौधरी ने बताया कि रेलवे के अधिकारी होमगार्डों की ड्यूटी की नियमित रूप से चेकिंग करेंगे. इसके अलावा रेलवे द्वारा ड्यूटी पर तैनात होमगार्डों को फ्लैग, टार्च, फोल्डिंग चेयर, मेज, अस्थायी हट, रेनकोट और एलईडी लैंप, सेफ्टी जैकेट उपलब्ध कराया जाएगा. वहीं, आने वाले वक्त में हम इसका विस्तार करते हुए और मानव रहित क्रॉसिंग पर होमगार्डों की तैनाती करेंगे.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर