लाइव टीवी

जहरीली शराब कांड की जांच के लिए SIT गठित, देवबंद के CO सस्पेंड

News18Hindi
Updated: February 11, 2019, 9:16 AM IST

आबकारी विभाग के अनुसार 297 मुकदमे दर्ज करके 175 गिरफ्तार किए गए हैं. जिला प्रशासन के मुताबिक ये शराब पड़ोसी राज्य उत्तराखंड से लाई गई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 11, 2019, 9:16 AM IST
  • Share this:
उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में जहरीली शराब पीकर मरने वालों की संख्या 100 से ज्यादा हो गई है. अकेले यूपी के सहारनपुर में 75 लोगों की जान चली गई. यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस मामले की जांच के लिए स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) गठित कर दी है. एसपी देहात विद्यासागर मिश्र इसकी अगुवाई करेंगे. इस टीम में तीन निरीक्षकों को भी शामिल किया गया है. ये टीम सिर्फ इस मामले की जांच करेगी. उसे दूसरा कोई काम नहीं दिया जाएगा.

अखिलेश का योगी पर आरोप- सरकार की मिलीभगत से बिक रही थी अवैध शराब

जहरीली शराबकांड से इतनी बड़ी संख्या में हुई मौत के बाद दोनों राज्यों में हड़कंप मच गया है. अवैध शराब के खिलाफ ताबड़तोड़ पुलिस कार्रवाई की जा रही है. आबकारी विभाग के अनुसार 297 मुकदमे दर्ज करके 175 गिरफ्तार किए गए हैं. जिला प्रशासन के मुताबिक ये शराब पड़ोसी राज्य उत्तराखंड से लाई गई थी.

ये पुलिसकर्मी सस्पेंड

इस बड़ी लापरवाही पर एसएसपी दिनेश कुमार ने नागल थाना प्रभारी सहित दस पुलिसकर्मी और आबकारी विभाग के तीन इंस्पेक्टर व दो कांस्टेबल सस्पेंड कर दिए हैं. वहीं, सहारनपुर के देवबंद के सर्कल ऑफिसर (सीओ) को सस्पेंड किया गया है.

यूपी सरकार ने किया मुआवजे का ऐलान
बता दें कि सीएम योगी ने इस मामले में मृतकों के आश्रितों को 2 लाख और जिनका इलाज चल रहा है उन्हें 50 हजार रुपए मदद देने का ऐलान किया है. साथ ही सीएम ने ये भी कहा कि ऐसी घटनाएं पहले भी घट चुकी हैं, जिनमें कई समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता शामिल थे.
Loading...

शराब हादसा: CM योगी ने सपा पर जताया शक, कहा- 'इस तरह की घटनाओं में पहले भी पकड़े गए हैं सपा नेता'

निशाने पर यूपी सरकार
घटना के बाद से ही यूपी सरकार विरोधियों के निशाने पर आ गई है. पहले प्रियंका गांधी ने राज्य सरकार पर अनदेखी का आरोप लगाया तो वहीं अब पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस पूरे मामले में योगी सरकार को घेरा है. उन्होंने कहा कि ऐसी घटनाएं सरकार की मिलीभगत की वजह से हो रही हैं.

शराब कांड: 100 मौतों पर बोलीं प्रियंका गांधी- CM करें दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई

अखिलेश यादव ने कहा, 'विपक्ष ऐसी गतिविधियों की जानकारी लगातार दे रहा था, लेकिन सरकार ने कुछ नहीं किया क्योंकि वो भी इसमें शामिल थे. सच्चाई तो ये है कि ऐसे धंधे सरकार की मिलीभगत के बिना नहीं फलते-फूलते. इस सरकार को ये मान लेना चाहिए कि उनसे राज्य नहीं चलाया जा रहा.'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2019, 11:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...