UP: ग्राउंड जीरो पर CM योगी ने संभाली कमान, जानिए Corona इंफेक्शन की चेन को कैसे किया ब्रेक

ग्राउंड जीरो पर CM योगी ने संभाली कमान (File photo)

बता दें कि 22 अप्रैल को नीति आयोग के सदस्य वीके पाल ने आशंका जाहिर की थी कि उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में 10 मई से रोज एक लाख से अधिक केस आएंगे

  • Share this:
लखनऊ. वैश्विक महामारी कोरोना (Corona Infection) के खिलाफ लड़ाई में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) के ग्राउंड जीरो पर उतरने का असर दिखने लगा है. सीएम योगी 30 अप्रैल से ही जिलों और मंडलों के दौरे कर रहे हैं. अब तक उन्होंने प्रदेश के 18 मंडलों में से 17 मंडलों का दौरा कर लिया है. इस दौरान वह लोगों से गांवों में उनके घर जाकर मिल रहे हैं. अस्पतालों में भर्ती संक्रमितों से भी उपचार और स्वास्थ्य की जानकारी ले रहे हैं. कोरोना की चेन तोड़ने के लिए सीएम योगी के धरातल पर किए जा रहे प्रयासों की वजह से प्रदेश में महज 23 दिनों में संक्रमण के 2,34,000 मामले कम हुए हैं.

कोरोना संक्रमित होने के बाद करते रहे बैठक
सीएम योगी कोरोना के खिलाफ जंग में फ्रंट फुट पर हैं. वह 14 अप्रैल को कोरोना संक्रमित हुए थे. इस दौरान उन्होंने होम आइसोलेशन में रहते हुए रोजाना न सिर्फ अफसरों के साथ समीक्षा बैठक की, बल्कि समाज के विभिन्न तबकों के साथ वर्चुअली संवाद कार्यक्रम भी जारी रखा. 30 अप्रैल को रिपोर्ट निगेटिव आने के तुरंत बाद वह ग्राउंड जीरो पर उतर गए और लखनऊ में उन्होंने डीआरडीओ की ओर से बनाए गए डेडिकेटेड कोविड अस्पताल का निरीक्षण किया था.

ऐसे किया इंफेक्शन चेन को ब्रेक
सीएम योगी ने ग्राउंड जीरो पर मंडलों, जिलों और गांवों में दौरे किए. उन्होंने जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ मंडल स्तर की समीक्षा बैठकें की, गांव के लोगों से उनके घर, अस्पताल जाकर संवाद किया, एक लाख गांवों में निगरानी समितियों को सक्रिय करके संक्रमितों की पहचान और 24 घंटे में टेस्ट कराकर मेडिसिन किट पहुंचाने की व्यवस्था की. जरूरत के अनुसार लोगों को आइसोलेट और अस्पताल में भर्ती कराया और इन्फेक्शन की चेन को ब्रेक किया. उसी का नतीजा आज उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते टेस्ट और घटते केस के रूप में दिख रहा है.

यूपी बनेगा दुनिया का सबसे बड़ा हॉटस्पॉट?
बता दें कि 22 अप्रैल को नीति आयोग के सदस्य वीके पाल ने आशंका जाहिर की थी कि उत्तर प्रदेश में 10 मई से रोज एक लाख से अधिक केस आएंगे, अन्य विशेषज्ञों ने भी आशंका जाहिर की थी कि यूपी दुनिया का सबसे बड़ा कोविड-19 हॉटस्पॉट बनेगा, लेकिन सीएम योगी ने उनकी आशंकाओं को निर्मूल साबित कर दिया।