योगी सरकार का ऑपरेशन 'घर वापसी' जारी, जानिए कितने प्रवासी मजदूरों और छात्रों को पहुंचा चुकी है घर
Lucknow News in Hindi

योगी सरकार का ऑपरेशन 'घर वापसी' जारी, जानिए कितने प्रवासी मजदूरों और छात्रों को पहुंचा चुकी है घर
हरियाणा, मध्य प्रदेश और गुजरात के कामगारों और श्रमिकों (Labours) को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की प्रक्रिया में सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने प्रदेश के राजस्व विभाग से 6 लाख लोगों के लिए क्वारंटीन सेंटर, शेल्टर होम और कम्युनिटी किचन तैयार कराए हैं.

हरियाणा, मध्य प्रदेश और गुजरात के कामगारों और श्रमिकों (Labours) को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की प्रक्रिया में सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने प्रदेश के राजस्व विभाग से 6 लाख लोगों के लिए क्वारंटीन सेंटर, शेल्टर होम और कम्युनिटी किचन तैयार कराए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2020, 2:10 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. देश के विभिन्न राज्यों में फंसे उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कामगारों और श्रमिकों को सुरक्षित घरों तक पहुंचाने में योगी सरकार (Yogi Government) लगातार जुटी हुई है. इन कामगारों और श्रमिकों (Migrant Laborers) को उनके घरों तक सुरक्षित पहुंचाने की प्रक्रिया में सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने प्रदेश के राजस्व विभाग से 6 लाख लोगों के लिए क्वारंटीन सेंटर, शेल्टर होम और कम्युनिटी किचन तैयार कराए हैं.

दिल्ली, हरियाणा के बाद अब मध्य प्रदेश, गुजरात से लाए जाएंगे मजदूर

बता दें योगी सरकार ने इससे पहले दिल्ली से 28 और 29 मार्च को 4 लाख लोगों को सुरक्षित घरो तक पहुंचाया. इसके बाद हरियाणा और राजस्थान से भी 50 हज़ार लोगों को घरों तक पहुंचाया गया. हरियाणा से 13 हज़ार लोगों को और लाया जा रहा है. जानकारी के अनुसार आज मध्य प्रदेश से यूपी के कामगार और श्रमिक घर वापस लाए जाएंगे. वहीं कल यानी 1 मई को गुजरात से श्रमिक और कामगार उत्तर प्रदेश वापस लाए जाएंगे.




कोटा और प्रयागराज के 25 हजार से ज्यादा छात्रों की घर वापसी

यही नहीं यूपी सरकार राजस्थान के कोटा में फंसे यूपी के 11,500 छात्र-छात्राओं को भी सुरक्षित घरों तक पहुंचा चुकी है. प्रदेश के बाहर ही नहीं सरकार प्रदेश के अंदर भी लॉकडाउन में फंसे छात्रों के लिए काम कर रही है. इसी क्रम में प्रयागराज से प्रदेश के विभिन्न जनपदों के 15 हज़ार छात्रों को सरकार सुरक्षित घर पहुंचा चुकी है.

सीएम की अपील- अभी तक जिस धैर्य का परिचय दिया है, उसे बनाए रखें

इस बीच गुरुवार को खुद सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी राज्यों में फंसे यूपी के कामगारों और श्रमिकों से भावुक अपील भी की है. उन्होंने कहा- अभी तक जिस धैर्य का परिचय दिया है, उसे बनाए रखें, संबंधित राज्यों की सरकारों से संपर्क कर सभी को घरों तक सुरक्षित पहुँचाने की विस्तृत कार्ययोजना तैयार हो रही है. इसलिए वे जहां हैं, वहीं रहें. संबंधित राज्य सरकारों के संपर्क में रहें. कतई पैदल न चलें.”

दरअसल यूपी सरकार ने लोगों की घर वापसी के लिए देश के सभी राज्यों को पत्र लिखकर यूपी के कामगारों और श्रमिकों का विस्तृत ब्यौरा मांगा है. सभी का नाम, पता और मोबाइल नंबर के साथ ही मेडिकल रिपोर्ट मांगी गई है.

कोटा के छात्रों से सीएम ने की बात

वैसे जिन लोगों की घर वापसी हो रही है, उन्हें परिस्थिति के हिसाब से या तो घर में आइसोलेशन में रखा गया है या क्वारेटाइन सेंटर में रखा जा रहा है. घर वापसी करने वाले कोटा के छात्रों से पिछले दिनों खुद सीएम योगी ने वीडियो कांफ्रेस कर बातचीत की और हालचाल लिया. इस दौरान छात्रो ंने एक सुर में सीएम योगी का धन्यवाद दिया.

ये भी पढ़ें:

News 18 की खबर का असर: मेरठ मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन पाइपलाइन का टेंडर निरस्त

'मुल्क' से जुड़ा है ऋषि कपूर और यूपी का नाता, इन शहरों में हुई थी शूटिंग
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज