Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    COVID-19: बारिश के बाद तीन गुना तक बढ़ी शहरों में ह्यूमिडिटी, चिंता में वैज्ञानिक

    यूपी में बारिश का सिलसिला मई के पहले हफ्ते तक जारी रहेगा.  (प्रतीकात्मक फोटो)
    यूपी में बारिश का सिलसिला मई के पहले हफ्ते तक जारी रहेगा. (प्रतीकात्मक फोटो)

    बता दें कि भारत में भी covide-19 वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या दिनोंदिन बढ़ रही है. इस बीच लगातार गर्मी बढ़ने के साथ-साथ वायरस के संक्रमण को कम होने में उम्मीद जताई जा रही थी लेकिन इस उम्मीद पर बारिश ने पानी फेर दिया है.

    • Share this:
    लखनऊ. कोरोना वायरस (coronavirus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन (lockdown) का ऐलान किया गया है. वहीं पिछले हफ्ते में लगातार मौसम गर्म हो रहा था और इस बात की उम्मीद की जा रही थी कि बढ़ते तापमान में कोरोना वायरस के संक्रमण का खतरा भी धीरे-धीरे कम होता जाएगा. लेकिन शुक्रवार को लगभग पूरे यूपी में हुई बारिश ने वैज्ञानिकों के माथे पर चिंता की लकीरें खींच दी हैं. बरसात के बाद शहरों में ह्यूमिडिटी 3 गुना तक बढ़ गई है. मौसम विभाग के अनुसार लखनऊ में कल गुरुवार को 2:30 बजे दोपहर में ह्यूमिडिटी सिर्फ 31% थी जो बारिश के बाद शुक्रवार को 2:30 बजे 91% दर्ज की गई. इसके साथ ही तापमान में भी अच्छा खासा गिरावट दर्ज किया गया है.

    वैज्ञानिकों के माथे पर चिंता की लकीरें

    किसी भी वायरस के जिंदा रहने और उसे फैलने के लिए ह्यूमिडिटी और तापमान का बड़ा अहम रोल होता है. जालौन मेडिकल कॉलेज में तैनात माइक्रोबायोलॉजिस्ट डॉ अंकुर ने बताया कि लगातार ह्यूमिडिटी के कम होने और तापमान के बढ़ने से इस बात की उम्मीदें बढ़ गई थी कि वायरस का प्रकोप धीरे धीरे कम हो सकता है. हालांकि इस बारे में कोई पुख्ता प्रमाण अभी तक सामने नहीं आया है लेकिन बारिश होने के बाद चिंता थोड़ी बढ़ गई है .



    लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई में तैनात माइक्रोबायोलॉजिस्ट विभाग की हेड डॉ उज्जवला घोषाल ने बताया कि कोई भी वायरस सामान्य तौर पर ह्यूमिडिटी ज्यादा होने और तापमान कम होने में ज्यादा देर तक जिंदा रह सकता है. सामान्य तौर पर ह्यूमिडिटी कम होने और ज्यादा तापमान में किसी वायरस की लाइफ साईकल घट जाती है. लेकिन जैसे ही ह्यूमिडिटी बढ़ती है और तापमान घटता है वैसे ही सामान्य तौर पर किसी वायरस के जिंदा रहने की संभावना भी बढ़ जाती है. हालांकि उन्होंने यह भी जोड़ा कि covide-19 वायरस के बारे में अभी पुख्ता तौर पर कुछ नहीं कहा जा सकता लेकिन आज हुई बारिश की वजह से चिंता तो बढ़ ही गई है.
    बता दें कि भारत में भी covide-19 वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या दिनोंदिन बढ़ रही है. इस बीच लगातार गर्मी बढ़ने के साथ-साथ वायरस के संक्रमण को कम होने में उम्मीद जताई जा रही थी लेकिन इस उम्मीद पर बारिश ने पानी फेर दिया है. प्रदेश के ज्यादातर जिलों में आज सुबह से मौसम बिगड़ गया है. हल्की ही सही लेकिन ज्यादातर जिलों में बारिश भी हो रही है. मौसम विभाग ने अनुमान लगाया है कि बारिश का ये सिलसिला शनिवार की सुबह तक जारी रह सकता हैं.

    ये भी पढ़ें:

    लॉकडाउन के बीच सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे कम्युनिटी किचन, जांची हकीकत
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज