होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /

लखनऊ: IAS रजनीश दुबे के निजी सचिव का सुसाइड लेटर मिला, जानिए आत्महत्या की वजह

लखनऊ: IAS रजनीश दुबे के निजी सचिव का सुसाइड लेटर मिला, जानिए आत्महत्या की वजह

विश्वंभर दयाल के खुद को गोली मारने के मामले की जांच आईजी रेंज लखनऊ को सौंप दी गई है.

विश्वंभर दयाल के खुद को गोली मारने के मामले की जांच आईजी रेंज लखनऊ को सौंप दी गई है.

Uttar Pradesh news: विश्वंभर दयाल ने अपने सुसाइड नोट में बहन के ससुराल पक्ष से विवाद और उनके द्वारा प्रताड़ित करने का जिक्र किया है. इसी के चलते वे लंबे समय से अवसाद में थे.

लखनऊ. वरिष्ठ आईएएस रजनीश दुबे के निजी सचिव विश्वंभर दयाल के खुद को गोली मारने के मामले में नया मोड़ आ गया है. दयाल का लिखा सुसाइड नोट पुलिस को तलाशी के दौरान मिला है. ये उन्होंने खुद लिखा है और इसमें तनाव के चलते आत्महत्या का कदम उठाने की बात कही है. उन्होंने अपनी बहर के ससुराल पक्ष से चल रहे विवाद और दर्ज मुकदमे के कारण तनाव होने का जिक्र किया है. साथ ही उन्होंने इस सुसाइड नोट में बहन के ससुराल पक्ष की ओर से प्रताड़ित करने की भी बात लिखी है. सुसाइड नोट मिलने के बाद मामले की जांच आईजी रेंज लखनऊ को दे दी गई है. गौरतलब है कि सोमवार को अपर मुख्य सचिव नगर विकास रजनीश दुबे के निजी सचिव विश्वंभर दयाल ने दोपहर 1.45 बजे लखनऊ स्थित बापू भवन में अपने कार्यालय में ही खुद को गोली मार ली थी. जिसके बाद उन्हें सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

पहले उठा था छुट्टी का मुद्दा
दयाल का लिखा सुसाइड नोट मिलने से पहले ये चर्चा थी कि कार्यस्‍थल पर उपजे तनाव के चलते उन्होंने ये कदम उठाया है. लोगों का कहना था कि छुट्टी के दिन विश्वंभर दयाल को काम पर बुला लिया गया जिसके चलते वे तनाव में थे, वे काफी लंबे समय से काम को लेकर अवसाद में भी थे और इसी के चलते उन्होंने खुद को गोली मारी. हालांकि सुसाइड नोट मिलने के बाद इन बातों पर विराम लग गया है.

गोली की आवाज से डरे लोग
अचानक बापू भवन में गोली चलने की आवाज सुन वहां मौजूद सभी अधिकारी व कर्मचारी चौंक गए. इस दौरान अफरा तफरी का माहौल हो गया. लोगों ने विश्वंभर के दफ्तर का दरवाजा खटखटाया लेकिन वो अंदर से बंद था. इसके बाद सुरक्षाकर्मियों को सूचना दी गई. उन्होंने आकर गेट खोला और विश्वंभर को अस्पताल के लिए रवाना किया. साथ ही पुलिस को भी मामले की सूचना दी.

Tags: Lucknow news, Suicide, Suicide Case, Uttar pradesh news, Uttar Pradesh Police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर