अखिलेश यादव अगर रोजगार देते तो आज लोग मुसीबत में न होते: सिद्धार्थनाथ सिंह
Lucknow News in Hindi

अखिलेश यादव अगर रोजगार देते तो आज लोग मुसीबत में न होते: सिद्धार्थनाथ सिंह
सपा प्रमुख अखिलेश यादव पर यूपी सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने हमला किया है

योगी सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) कई सवाल खड़े कर रहे हैं. अगर वह रोजगार दे दिए होते तो आज लोग मुसीबत में न होते. जो काम उन्हें करना था, वह हम कर रहे हैं इसलिए वह सिर्फ अनर्गल अलाप कर रहे हैं.

  • Share this:
लखनऊ. वैश्विक महामारी कोरोनावायरस (COVID-19) के चलते देश भर में लॉकडाउन (Lockdown) लागू है. लाखों की संख्या में लोग ट्रेन, बसों, वाहनों और पैदल उत्तर प्रदेश में वापसी कर रहे हैं. इस घर वापसी से जुड़ी कई कठिनाइयों और दुर्घटनाओं की तस्वीरें भी सामने आ रही हैं. मामले में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) लगातार ट्वीट कर सरकार पर हमला बोल रहे हैं. अब योगी सरकार (Yogi Government) ने अखिलेश यादव पर पलटवार किया है.

योगी सरकार के प्रवक्ता और कैबिनेट मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने सोमवार को कहा कि अखिलेश यादव कई सवाल खड़े कर रहे हैं. अगर वह रोजगार दे दिए होते तो आज लोग मुसीबत में न होते. जो काम उन्हें करना था, वह हम कर रहे हैं इसलिए वह सिर्फ अनर्गल अलाप कर रहे हैं.

अखिलेश लगातार ट्वीट कर उठा रहे सवाल



दरअसल अखिलेश यादव ने सोमवार को एक बार फिर प्रवासी मजदूरों की एक तस्वीर शेयर की. साथ ही उन्होंने लिखा कि कितना मुश्किल होगा उसके आगे का सफ़र... जो मजबूर है सड़कों पर पैदा होने के लिए... कोई है जो सुन रहा है?
इससे पहले अखिलेश यादव ने ट्वीट किया कि 2022 तक सबको घर देने का वादा करने वाले सत्ताधारी आज बेघर भटकते भूखे-प्यासे लोगों को एक वक़्त की रोटी तक नहीं दे पा रहे हैं. इतिहास गवाह रहा है, सड़कों पर उतरी जनता ने सर्वशक्तिमान होने का दंभ-भ्रम रखने वाले एक-से-एक बड़ों को पैदल कर दिया है.

सरकार से की त्यागपत्र की मांग

इससे पहले शनिवार को भी अखिलेश ने ट्वीट किया था, 'उत्तर प्रदेश की बीजेपी सरकार ने एक अध्यादेश से मजदूरों को शोषण से बचाने वाले श्रम-कानून के अधिकांश प्रावधानों को तीन साल के लिए स्थगित कर दिया है. यह बेहद आपत्तिजनक और अमानवीय है. श्रमिकों को संरक्षण न दे पाने वाली गरीब विरोधी बीजेपी सरकार को तुरंत त्यागपत्र दे देना चाहिए.'

प्रवासी कामगारों और श्रमिकों को रोजगार देने को तैयार है सरकार

सिद्धार्थनाथ सिंह ने कहा कि सरकार कामगार व श्रमिकों को रोजगार देने के लिए पूरी तरह से तैयार है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देशन में पूरी तैयारी कर ली गई है. सीएम ने सभी विभागों को निर्देश दिए हैं, जिसमें उनका विभाग एमएसएमई भी शामिल है. उन्होंने बताया कि हम 12 मई से लोन मेले लगाने जा रहे हैं. हमने बैंकों और उद्योगों से बातचीत की है.

उद्योगों और बैंकों से चल रही बात

सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा कि अगर एक लोन से 5 लोगों को रोजगार मिलेगा तो ऐसी बड़ी संख्या होगी, जिससे लोगों को रोजगार मिलेगा. उन्होंने कहा कि हम अपने कामगारों, श्रमिकों (जो बाहर से आ रहे हैं) को यहीं रोजगार देंगे. सरकार की पूरी तैयारी है, जिसके लिए हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कर रहे हैं. उद्योगों से बात कर रहे हैं. बैंकों से बात कर रहे हैं क्योंकि लॉक डाउन का समय है और कहीं कोई आ जा नहीं सकता तो वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की जा रही है.

इनपुट: अजीत सिंह

ये भी पढ़ें:

COVID-19: अखिलेश यादव ने ट्वीट कर साझा की तस्वीर, बोले- कोई है जो सुन रहा है?

घर लौट रहे Workforce को UP में ही मिलेगा रोजगार, योगी सरकार ने बनाया ये प्लान
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading