प्रवासी मजदूरों को लेकर CM योगी का बड़ा बयान, बोले- अगर राज्य वापस बुलाना चाहते हैं तो हमसे लेनी होगी इजाजत
Lucknow News in Hindi

प्रवासी मजदूरों को लेकर CM योगी का बड़ा बयान, बोले- अगर राज्य वापस बुलाना चाहते हैं तो हमसे लेनी होगी इजाजत
बीते दिनों सहारनपुर में पंजाब के लुधियाना से पैदल ही यूपी के हरदोई जा रहे विपिन कुमार की भूख से मौत हो गई.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने प्रवासी कामगारों (Migrant Workers) को लेकर बड़ा बयान दिया है, जो कि दूसरे राज्‍यों के लिए एक नसीहत भी है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Chief Minister Yogi Adityanath) ने रविवार को कहा कि जो भी राज्य चाहता है कि प्रदेश के प्रवासी कामगार (migrant workers) उनके यहां वापस आएं, उन्हें राज्य सरकार से इसकी इजाजत लेनी होगी. इसकू अलावा उन कामगारों के सामाजिक, कानूनी और आर्थिक अधिकार सुनिश्चित करने होंगे.

सीएम योगी ने जताया दुख
सीएम योगी ने इस बात पर दुख जताया कि कोरोना वायरस के कारण लगाए गए लॉकडाउन के दौरान कई राज्यों ने प्रवासी कामगारों का उचित तरीके से ध्यान नहीं रखा. उन्होंने कहा, ‘ये कामगार हमारे सबसे बड़े संसाधन हैं और हम उन्हें उत्तर प्रदेश में रोजगार देंगे.राज्य सरकार उन्हें रोजगार मुहैया करवाने के लिए प्रवासी आयोग गठित करेगी.’

योगी ने कही ये बात



यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से संबद्ध प्रकाशनों ‘पांचजन्य’ और ‘ऑर्गेनाइजर’ से बातचीत में कहा, ‘वे हमारे लोग हैं. अगर कुछ राज्य उन्हें वापस बुलाना चाहते हैं तो उन्हें राज्य सरकार से इजाजत लेनी होगी.’ उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश पहुंचे प्रवासी कामगारों से मिली प्रतिक्रिया से यह समझ में आया कि सबसे ज्यादा ध्यान और महत्व उनके अधिकारों की रक्षा पर देने की जरूरत है. उन्होंने यह भी कहा कि सभी प्रवासी कामगारों का पंजीयन किया जा रहा है और उनके कौशल का लेखा-जोखा रखा जा रहा है.



बनेगा प्रवासी आयोग
आयोग के बारे में उन्होंने सीएम ने कहा कि प्रवासी कामगारों के अधिकारों से जुड़े कई कारकों को देखने के लिए यह प्रस्तावित है. उनका शोषण रोकना और उन्हें सामाजिक, आर्थिक तथा कानूनी मदद मुहैया करवाने के लिए आधिकारिक रूपरेखा प्रदान करना इसका काम होगा. साथ ही उन्होंने कहा, 'बीमा, सामाजिक सुरक्षा, पुन: रोजगार सहायता, बेरोजगारी भत्ते का प्रावधान आदि पर आयोग विचार करेगा.’

23 लाख से अधिक प्रवासी कामगार प्रदेश लौटे
यूपी के सीएम योगी ने बताया कि राज्य सरकार के प्रयास से अब तक 23 लाख से अधिक प्रवासी कामगार प्रदेश लौट चुके हैं. उन्होंने बताया कि इनमें मुंबई से आए 75 फीसदी और दिल्ली से आए 50 फीसदी कामगार कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. उन्होंने कहा कि लौटने के इच्छुक सभी प्रवासी कामगार अगले हफ्ते तक प्रदेश में पहुंच जाएंगे.जबकि योगी ने कोरोना वायरस संकट से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सराहना की.जबकि उत्तर प्रदेश में रोजगार के नये अवसरों के सृजन के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि जर्मनी की एक कंपनी चीन से अपनी उत्पादन इकाई को भारत ला रही है और वह आगरा में जूतों का उत्पादन शुरू कर सकती है.

ये भी पढ़ें

UP सरकार ने COVID-19 वार्ड में मोबाइल बैन के आदेश को लिया वापस
First published: May 24, 2020, 10:55 PM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading