• Home
  • »
  • News
  • »
  • uttar-pradesh
  • »
  • LUCKNOW IMPLB SECRETARY ZAFARYAB JILANI ADMITTED TO MEDANTA HOSPITAL AFTER BRAIN HEMORRHAGE CGPG

AIMPLB सचिव जफरयाब जिलानी को ब्रेन हैमरेज, मेदांता अस्पताल में भर्ती

फरयाब जिलानी को ब्रेन हैमरेज.

Zafaryab Jilani Health Update: जफरयाब जिलानी को ब्रेन हैमरेज के बाद इलाज के लिए मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

  • Share this:
    लखनऊ. ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड (AIMPLB) के सचिव जफरयाब जिलानी (Zafaryab Jilani) की तबियत अचानक बिगड़ गई है. वरिष्ठ अधिवक्ता जिलानी को ब्रेन हैमरेज हुआ है. उन्हें इलाज के लिए गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जानकारी के मुताबिक, हैमरेज के बाद जिलानी बेहोश हो गए थे. ऑफिस से निकलते समय पैर स्लिप होने से वे गिर गए जिसके चलते उनके सिर में चोट आ गई है. साथ ही बीपी भी अचानक बढ़ गई थी. फिलहाल बीपी नॉर्मल बताया जा रहा है. प

    रिवार के सदस्य जिलानी को लेकर मेदांता पहुंचे थे. बता दें कि वरिष्ठ अधिवक्ता जफरयाब जिलानी ने रामजन्मभूमि विवाद में मुस्लिम पक्ष की ओर से मुकदमे की पैरवी की थी.


    कोरोना की रफ्तार धीमी


    उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार धीमी हो गई है. पिछले 24 घण्टे में 6725 नए कोरोना मरीज मिले. अपर मुख्य सचिव स्वास्थ अमित मोहन प्रसाद ने यह जानकारी दी. पिछले 24 घण्टे में 13590 संक्रमित डिस्चार्ज किये गए. प्रदेश में 116434 एक्टिव केस हैं. इनमें से 82801 संक्रमित होम आइसोलेशन में हैं. प्रदेश में रिकवरी रेट 91.8 फ़ीसदी है. प्रदेश में पॉजीटिविटी रेट 2.4 हो गया है. प्रदेश में पिछले 24 घंटे में 238 कोरोना संक्रमितों की मौत हुई. प्रदेश में पिछले 24 घण्टे में 291156 सैम्पल की जांच की गई.


    ये भी पढ़ें: हिसार हिंसा: 26 नामजद समेत 350 प्रदर्शनकारियों पर हत्या का प्रयास और तोड़फोड़ का केस 

    प्रसाद ने कहा, "हल्के लक्षण हैं तो घर पर रह कर इलाज कराएं. आरआर टीम घर पर दवा पहुंचाएगी. निगरानी समिति के ज़रिए अगर किसी में लक्षण हैं तो दवा दी जा रही है. दवा से कोई नुक़सान नहीं है. निगरानी समिति को लगातार दवा दी जा रही है और लक्षण आते ही दवा शुरू करने की ज़रूरत है. टेस्ट रिपोर्ट का इंज़ार न करें." प्रसाद ने आगे कहा, "32 फ़ीसदी ग्रामों में संक्रमण पहुंचा है. ग्राम निगरानी समिति की ज़िम्मेदारी है कि उन के गांव तक संक्रमण न पहुंचे. ग्राम प्रधान, बीडीसी सदस्य, ज़िला पंचायत सदस्यों से सरकार की अपील है कि आप लोग आगे आकर टीकाकरण कराएं ताकि लोग आगे आएं."
    Published by:Preeti George
    First published: