बसपा संगठन में अहम बदलाव, मुनकाद अली से उत्तराखंड वापस लिया गया, शम्सुद्दीन राइनी बने स्टेट कोऑर्डिनेटर

बसपा सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो)
बसपा सुप्रीमो मायावती (फाइल फोटो)

बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) के आदेश पर पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली से उत्तराखंड की जिम्मेदारी वापस ले ली गई है. अब शम्सुद्दीन राईनी को उत्तराखंड का स्टेट कोऑर्डिनेट बनाया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 1:09 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. बहुजन समाज पार्टी (Bahujan Samaj Party) ने मंडल स्तरीय संगठन में अहम बदलाव कर दिया है. बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती (Mayawati) ने फरमान जारी करते हुए पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली (Munkad Ali) से उत्तराखंड की जिम्मेदारी वापस ले ली है. नए बदलाव के तहत शम्सुद्दीन राईनी (Shamsuddin Raini) को उत्तराखंड का स्टेट कोऑर्डिनेटर (Uttarakhand State Coordinator) बनाया गया है, इसके अलावा राईनी को यूपी में 5 मंडल (सहारनपुर, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली और लखनऊ मंडल के सेक्टर-2) का मुख्य सेक्टर प्रभारी भी बनाया गया है. वहीं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष आरएस कुशवाहा से वाराणसी का प्रभार वापस ले लिया गया है.

इन 4 मंडलों के प्रभारी होंगे मुनकाद अली

वहीं बसपा प्रदेश अध्यक्ष मुनकाद अली के पास 4 मंडलों की जिम्मेदारी होगी. मुनकाद के पास अब मिर्जापुर, इलाहाबाद, वाराणसी और आजमगढ़ मंडल की जिम्मेदारी रहेगी. इसके अलावा पूर्व सांसद घनश्याम खरवार गोरखपुर, बस्ती, फैजाबाद और देवीपाटन मंडल की जिम्मेदारी देखेंगे, वहीं राष्ट्रीय महासचिव आरएस कुशवाहा कानपुर, चित्रकूट और झांसी मंडल के मुख्य सेक्टर प्रभारी बनाए गए हैं. नौशाद अली और गोरेलाल मिलकर अलीगढ़ और आगरा मंडल का काम देखेंगे.



लखनऊ मंडल के दो सेक्टर, कई नेताओं के पास जिम्मेदारी
बसपा संगठन में लखनऊ मंडल में 46 विधानसभा क्षेत्र आते हैं. इसे दो सेक्टर में बांटा गया है. सेक्टर एक की जिम्मेदारी भीमराव अंबेडकर, रामनाथ रावत, विनय कश्यप, महेंद्र सिंह जाटव, डॉ. सुशील कुमार मुन्ना, मो. वसीम, किशनलाल गौतम, विशाल प्रताप राव और आशा राम रावत जिनके पास लखनऊ, उन्नाव, रायबरेली और बाराबंकी रहेंगे. वहीं सेक्टर-2 की जिम्मेदारी शमसुद्दीन राईनी के साथ डॉ. रामकुमार कुरील, हरीश सैलानी, डॉ. विनोद भारती, चंद्रिका प्रसाद गौतम, राकेश कुमार गौतम, जयवीर गौतम, रणधीर बहादुर और मेवालाल वर्मा के पास रहेगी, इस सेक्टर में हरदोई, लखीमपुर खीरी और सीतापुर जिले आते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज