होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /साइकिल की सवारी इमरान मसूद को पड़ गई भारी, SP में शामिल होते ही केस हुआ दर्ज, जानें क्यों...

साइकिल की सवारी इमरान मसूद को पड़ गई भारी, SP में शामिल होते ही केस हुआ दर्ज, जानें क्यों...

इमरान मसूद पर एफआईआर दर्ज.

इमरान मसूद पर एफआईआर दर्ज.

Imran Masood FIR: हाल ही में कांग्रेस का दामन छोड़कर समाजवादी पार्टी में शामिल हुए इमरान मसूद पर एफआईआर दर्ज की गई है. ...अधिक पढ़ें

लखनऊ. हाल ही में कांग्रेस का दामन छोड़कर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) में शामिल हुए इमरान मसूद (Imran Masood) पर अब कानूनी शिकंजा कस गया है. इमरान मसूद पर अंबाला रोड पर कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ बिना अनुमति बैठक करने को लेकर उनके खिलाफ मामला दर्ज किया गया. उन पर आचार संहिता के उल्लंघन और कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करने का आरोप है.

पुलिस की ओर से जानकारी दी गई है कि पूरे प्रदेश में आदर्श आचार संहिता लागू है. कोरोना वायरस को लेकर भी अलर्ट जारी है. पुलिस के मुताबिक इमरान मसूद ने अपने अंबाला रोड स्थित आवास पर समर्थकों को जुटाया था. इसमें भारी भीड़ रही. इस दौरान सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं किया गया. इसे आचार संहिता का उल्लंघन और कोरोना गाइडलाइन के खिलाफ माना गया. इसी के चलते इमरान मसूद समेत दस नामजद लोगों और 300 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है. उनके खिलाफ आचार सहिंता के उल्लंघन की धारा 188 और महामारी एक्ट की धारा में मामला दर्ज किया गया. SSP आकाश तोमर ने कुतुबशेर थाना प्रभारी को कार्रवाई के लिए आदेश दिए हैं. मामला सहारनपुर के कुतुबशेर थाने में दर्ज हुआ है. मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.

कांग्रेस को लेकर कही ये बात

आपके शहर से (लखनऊ)

इमरान मसूद ने आज सहारनपुर में अपने कार्यकर्ताओं से बातचीत कर कहा कि ‘वर्तमान स्थिति में लड़ाई सीधी सपा और बीजेपी में है. एक ऐसी सरकार चाहिए जो प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले जाए. ये संभव अखिलेश जी के नेतृत्तव में है इसलिए मैंने समाजवादी पार्टी को चुना है. मैं प्रियंका जी और राहुल जी का बेहद ऋणि हूं. मैं उनका सम्मान करता हूं. समाजवादी पार्टी को लाकर ही हम उत्तर प्रदेश में कुशासन को समाप्त कर सकते हैं. सामजवादी पार्टी के अलावा और कोई विकल्प नहीं है. हमारी गांधीवादी विचारधारा है और हम लोहियावादी विचारधारा को समर्थन करते हैं.

इसलिए ज्वाइन की सपा
इमरान मसूद ने कहा कि ‘मैंने अपने चंद लोगों को बुलाया था. मैंने नुक्कड़ सभा नहीं की है. मैं अपने घर के अदर खड़ा हूं. घर के अंदर कुछ लोगों को बुलाना आचार संहिता का उल्लंघन कैसे? अखिलेश जी से मैंने कहा था अपने साथियों से मशविरा करके आपसे मिलने का समय लूंगा. आज ही मैं अखिलेश जी से समय लूंगा. मैं बहुत दिन से इस प्रयास मे था हम सब मिलकर सरकार बनाएंगे, लेकिन दुर्भाग्य से ऐसा हो नहीं सका, लेकिन हालात ऐसे बन गए मुझे समाजवादी पार्टी से बात करनी पड़ी.

कांग्रेस का रहूंगा ऋणी
इमरान मसूद ने कहा, “किसानों के साथ जो उत्पीड़न भाजपा के लोगों ने किया, महिलाओं पर अत्याचार हुआ, तमाम मुद्दे हैं, जनता चाहती बदलाव हो. प्रियंका जी बहुत ही अच्छी नेता है, उनके सम्मान केलिए हमेशा ऋणि रहूंगा· उत्तर प्रदेश की वर्तमान परिस्थिति में इसके अलावा कोई विकल्प नजर नहीं आ रहा है. लिहाजा मैं अब प्रदेश की भलाई के लिए समाजवादी पार्टी के साथ हूं.”

Tags: Imran Masood FIR, Lucknow news, UP Assembly Election 2022, UP news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें