लॉकडाउन में पांच बारातियों ने निभाई शादी की रस्म, दूल्हे के साथ विदा हुई दुल्हन
Lucknow News in Hindi

लॉकडाउन में पांच बारातियों ने निभाई शादी की रस्म, दूल्हे के साथ विदा हुई दुल्हन
वर पक्ष से मात्र पांच बाराती दुल्हन के दरवाजे पर बारात लेकर पहुंचे.

लॉकडाउन (Lockdown) में किसी भी तरह के समारोह और सार्वजनिक कार्यक्रमों के आयोजन पर प्रतिबंध लगा है. लेकिन बलरामपुर (Balrampur) में केवल औपचारिकताएं निभाते हुए पांच बारातियों के बीच एक शादी की रस्म अदा की गई.

  • Share this:
बलरामपुर. कोरोना महामारी (Covid-19) के कारण सारे देश में लॉकडाउन (Lockdown) लागू है. इस दौरान किसी भी तरह के समारोह और सार्वजनिक कार्यक्रमों के आयोजन पर प्रतिबंध लगा है. लेकिन बलरामपुर (Balrampur) में केवल औपचारिकताएं निभाते हुए पांच बारातियों के बीच एक शादी की रस्म अदा की गई. दरअसल, ललिया थाना क्षेत्र के बल्देवनगर गांव के बलराम की पुत्री मोहिनी की शादी महराजगंज तराई थाना क्षेत्र के बरदहवा गांव निवासी बच्चाराम के पुत्र पवन से तय हुई थी. लॉकडाउन के कारण दोनों परिवारों के द्वारा धूमधाम से शादी कर पाना संभव नही था. शादी न टालने का विचार करते हुए दोनों परिवारों ने सादगी के साथ इसे करने का विचार किया. इस कारण दोनों परिवारों ने कुछ औपचारिकताओं के बीच शादी की रस्म (Marriage Ceremony) पूरी की. बिना किसी तामझाम के वर पक्ष से मात्र पांच बाराती दुल्हन के दरवाजे पर बारात लेकर पहुंचे. वधू पक्ष से भी केवल पांच लोगों ने बारातियों का स्वागत किया. इन दोनों गांव की दूरी लगभग 15 किलोमीटर है.

सोशल डिस्टेंसिंग का रखा गया ख्याल
शादी की रस्म अदायगी करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का भी पूरा ख्याल रखा गया. दूल्हे के पिता बच्चा राम ने बताया की शादी लगभग 6 महीने पहले ही तय हो चुकी थी और इसकी डेट 27 अप्रैल 2020 तय की गई थी. उन्होंने कहा कि देश में कोरोना महामारी के चलते लॉकडाउन है. ऐसी स्थिति में पहले शादी को टालने की प्लानिंग की जा रही थी.

औपचारिकताओं के साथ शादी हुई पूरी
इस बीच दोनों परिवार के लोगों ने तय किया कि बिना किसी तामझाम के सिर्फ़ कुछ औपचारिकताएं निभाते हुए शादी की जा सकती है. ग्राम सभा के प्रधान प्रतिनिधि संजय सिंह ने बताया कि लॉकडाउन के चलते धूमधाम से इस शादी करना संभव नहीं था. लेकिन वर और वधु पक्ष की सहमति को देखते हुए प्रशासन को भी इसकी सूचना दी गई और दोनों ही पक्ष से मात्र पांच-पांच लोगों की उपस्थिति में यह शादी पूरी हुई. वर और वधु दोनों ही पक्ष के लोगो ने औपचारिकताएं निभाते हुये शादी की रस्म पूरी कर दी और शादी के बाद दुल्हन, दूल्हे के साथ विदा भी हो गई.



 

ये भी पढ़ें:

 

रमजान में लखनऊ के जायकों पर कोरोनावायरस की बेड़ियां, सुनी हैं चटोरी गलियां
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज