UP के शहरों में पर्यटकों और छात्रों को बेहद कम किराए पर मिलेगी डॉरमेट्री की सुविधा, जानिए क्या है नीति

योगी सरकार ने यूपी के शहरों में डॉरमेट्री की सुविधा को लेकर नीति बना दी है. (सांकेतिक तस्वीर)

योगी सरकार ने यूपी के शहरों में डॉरमेट्री की सुविधा को लेकर नीति बना दी है. (सांकेतिक तस्वीर)

Lucknow News: केंद्र सरकार ने राज्यों को अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग कॉन्प्लेक्स शुरू करने के निर्देश दिए थे. इसी क्रम में यूपी सरकार ने शहरों में डॉरमेट्री बनाने की नीति बना दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 6:11 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. अगर आप घूमने, परीक्षा देने या किसी अन्य कार्य से उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के किसी भी शहर में आ रहे हैं तो अब आपको महंगे होटलों आदि में ठहरना नहीं होगा. आप अपनी जेब के हिसाब से डॉरमेट्री (Dormitory) में भी ठहर सकते हैं. आमतौर पर रेलवे स्टेशनों पर मिलने वाली ये सुविधा अब शहर के तमाम इलाकों में मिलेगी. योगी सरकार ने इसके लिए तैयारी कर ली है. ये पूरी कवायद केंद्र सरकार के अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग कॉन्प्लेक्स के निर्णय के क्रम में है.

उत्तर प्रदेश में अब दूसरे शहरों से आने वाले पर्यटकों, प्रवासी और छात्रों को बेहद कम किराए पर एक बेड की डॉरमेट्री की सुविधा दी जाएगी. यह सुविधा 10 वर्ग मीटर क्षेत्रफल की एक बेड के साथ एक अलमारी और एक लॉकर वाली होगी. उत्तर प्रदेश के नगर विकास विभाग ने सभी शहरों के लिए इस बारे में एक नीति बना दी है, जिसे वह जल्दी जारी करने जा रहा है.

Youtube Video


बेहद कम कीमत पर रुकने की व्यवस्था
दरअसल इस निर्णय के पीछे की मंशा शहरों में आने वाले छात्रों, पर्यटकों और दूसरे यात्रियों को बेहद कम कीमत में रुकने की व्यवस्था मुहैया कराना है. केंद्र सरकार ने भी इस बारे में राज्यों को अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग कॉन्प्लेक्स शुरू करने के निर्देश दिए थे. यूपी सरकार का यह फैसला इसी की एक कड़ी है.

प्राइवेट बिल्डर्स को मिली छूट

यूपी सरकार ने यह फैसला कैबिनेट ने पास भी कर लिया है और अब इसके लिए नियम बनाए जा रहे हैं. इसके लिये सरकार प्राइवेट बिल्डर्स के साथ भी काम करेगी. अगर प्राइवेट बिल्डर सस्ते रेंटल हाउसिंग कंपलेक्स बनाएंगे तो सरकार इसके लिए उनको एफएआर में 50% तक छूट देगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज