Home /News /uttar-pradesh /

निर्दलीय विधायक राजा भैया थाम सकते हैं भाजपा का हाथ

निर्दलीय विधायक राजा भैया थाम सकते हैं भाजपा का हाथ

पहले चरण के नामांकन में महज कुछ ही दिन बचे हैं लेकिन समाजवादी पार्टी में साइकिल सिंबल को लेकर खींचतान जारी है. इसी बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि, निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह ‘राजा भैया’ भी भाजपा का दामन थाम सकते हैं.

पहले चरण के नामांकन में महज कुछ ही दिन बचे हैं लेकिन समाजवादी पार्टी में साइकिल सिंबल को लेकर खींचतान जारी है. इसी बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि, निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह ‘राजा भैया’ भी भाजपा का दामन थाम सकते हैं.

पहले चरण के नामांकन में महज कुछ ही दिन बचे हैं लेकिन समाजवादी पार्टी में साइकिल सिंबल को लेकर खींचतान जारी है. इसी बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि, निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह ‘राजा भैया’ भी भाजपा का दामन थाम सकते हैं.

  • Pradesh18
  • Last Updated :
    उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में पहले चरण के नामांकन में महज कुछ ही दिन बचे हैं, लेकिन प्रदेश का सियासी पारा गरमा गया है है. इसी बीच चर्चा है कि निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह ‘राजा भैया’ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) का दामन थाम सकते हैं.

    राजा भैया मौजूदा समय में समाजवादी पार्टी को अपना समर्थन देते हैं. सूत्रों के मुताबिक, समाजवादी पार्टी के कई विधायक भी भाजपा में शामिल हो सकते हैं. ये विधायक भाजपा यूपी प्रदेश अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्य के संपर्क में लगातार बने हुए हैं.

    ऐसा भी कहा जा रहा है कि सभी विधायक और राजा भैया भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष से भी मुलाकात कर चुके हैं. अमित शाह को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अनुमति मिलते ही जल्द से जल्द इन विधायकों को भाजपा में शामिल किया जा सकता हैं.

    इस बीच जानकारों का मानना है कि अखिलेश गुट और मुलायम धड़े की ओर से चुनाव आयोग में अपना-अपना पक्ष रखने के बाद अब इसकी उम्मीद बहुत ही कम है कि सुलह हो. जहां तक चुनाव आयोग की बात है तो वह समाजवादी पार्टी को फ्रीज कर दोनों को अलग-अलग ही सिंबल देगा, इसकी संभावना ज्यादा लग रही है.

    दरअसल, शुक्रवार को चुनाव आयोग ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित कर लिया था. चुनाव आयोग साइकिल चुनाव चिन्ह को लेकर अपना फैसला सोमवार को दे सकता है. यह भी एक वजह है कि समाजवादी पार्टी के नेताओं में खुद को लेकर बेचैनी बढ़ गई है.

    यूपी में पहले चरण के दौरान 15 जिलों की 73 सीटों पर वोटिंग होनी है. चुनाव के लिए अधिसूचना 17 जनवरी को जारी होगी. नामांकन पत्र भरने की अंतिम तारीख 24 जनवरी है और इसकी जांच 25 जनवरी को की जाएगी.

    नामांकन वापस लिए जाने की आखिरी तारीख 27 जनवरी होगी और इन विधानसभा सीटों पर मतदान 11 फरवरी को करवाया जाएगा. जिन सीटों पर वोटिंग होगी, वे ये हैं - शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, मेरठ, गाज़ियाबाद, गौतमबुद्ध नगर, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, आगरा, फिरोजाबाद, एटा और कासगंज.

    Tags: Samajwadi party

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर