लाइव टीवी

पुण्यतिथि विशेष: शादी के फौरन बाद लखनऊ के इस मकान में रही थीं इंदिरा गांधी...

News18 Uttar Pradesh
Updated: October 31, 2019, 5:32 PM IST
पुण्यतिथि विशेष: शादी के फौरन बाद लखनऊ के इस मकान में रही थीं इंदिरा गांधी...
फिरोज गांधी के साथ इंदिरा गांधी

इतिहासकार रवि भट्ट बताते हैं कि 1946-47 में इंदिरा गांधी (Indira Gandhi) और फिरोज गांधी (Feroze Gandhi) लखनऊ (Lucknow) में जब रहने आए उस समय इंदिरा अपने पति के साथ लखनऊ के हजरतगंज (Hazaratganj) में गंजिंग को खूब एन्जॉय करती थीं.

  • Share this:
लखनऊ. आज पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की पुण्यतिथि है. बहुत कम लोग ये जानते होंगे कि इंदिरा गांधी का लखनऊ से भी गहरा नाता रहा है. जब इंदिरा का विवाह फिरोज गांधी से हुआ था उसके बाद वो लखनऊ आई थीं और तकरीबन 15 दिन यहां प्रवास पर थीं. इस दौरान वो गंजिंग भी एन्जॉय करती थीं और मेफेयर वाली राम आडवाणी की बुक शॉप से पढ़ने के लिए किताबें भी लिया करती थीं.

गंजिंग को खूब एन्जॉय करती थीं
उनकी पुण्यतिथि पर याद करते हुए इतिहासकार रविभट्ट बताते हैं कि इंदिरा गांधी का लखनऊ से बहुत गहरा नाता रहा. अपनी शादी के बाद इंदिरा गांधी, लखनऊ में आकर रही थीं. वो कहते हैं कि जब इंदिरा गांधी की शादी फिरोज गांधी से हुई तब वो फिरोज के साथ लखनऊ रहने आईं. वो यहां पर करीब 15 दिन रुकीं. रविभट्ट कहतें हैं कि उस समय लखनऊ से तीन अखबार निकला करते थे. जिन अखबारों को एसोसिएट जर्नल निकाला करता था.

जिनमें अंग्रेजी में नेशनल हेराल्ड, हिंदी में नवजीवन और उर्दू में कौमी आवाज. फिरोज गांधी को एसोसिएट जर्नल का मैनेजिंग डायरेक्टर बनाया गया. उसी समय वो इंदिरा गांधी के साथ लखनऊ आए और रहे. जिससे लखनऊ से इंदिरा गांधी की बहुत सारी यादें जुड़ी हैं. रवि भट्ट बताते हैं कि 1946-47 में इंदिरा गांधी और फिरोज गांधी लखनऊ में जब रहने आए तो उस समय इंदिरा गांधी नई उम्र की लेडी थीं वो यहां अपने पति के साथ लखनऊ के हजरतगंज में गंजिंग को खूब एन्जॉय करती थीं.

1946-47 में इंदिरा गांधी और फिरोज गांधी लखनऊ में जब रहने आए तो इसी बिल्डिंग में था उनका प्रवास


प्रधानमंत्री बनने के बाद भी आई थीं लखनऊ
रविभट्ट बताते हैं कि इंदिरा गांधी कुछ वक्त तक लखनऊ के ला-प्लास में भी रहीं. सिर्फ अपनी शादी के बाद ही नहीं इंदिरा गांधी जब प्रधानमंत्री बनीं, उसके बाद भी वो लखनऊ आईं. रवि भट्ट बताते हैं कि इंदिरा गांधी को किताबें पढ़ने का खूब शौक था. वो किताबें पढ़ने के लिए राम आडवाणी की मेफेयर वाली किताबों की दुकान से किताब लेने जाया करती थीं. इसके अलावा यूनिवर्सल बुक डिपो से भी इंदिरा गांधी किताबें लेकर पढ़ा करती थीं. यही नहीं रवि कहतें हैं कि सूत्र तो ये भी बताते हैं कि राजीव गांधी और संजय गांधी की कुछ पढ़ाई भी लखनऊ के मोंटेसरी स्कूल में हुई जो पुराने किले में था. 31 अक्टूबर 1984 को तत्कालीन प्रधानमंत्री की नृशंस हत्या उनके अंगरक्षकों ने प्रधानमंत्री आवास में ही कर दी थी.
Loading...

ये भी पढ़ें-  स्टंटबाजों ने ट्रैक पर दौड़ा दी बाइक, सामने से आ रही पैसेंजर ट्रेन ड्राइवर ने देखा तो...


अखिलेश बोले- हम तो सरदार पटेल को RSS पर बैन लगाने वाले के रूप में करेंगे याद...

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 31, 2019, 4:20 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...