UP में 88 औद्योगिक इकाइयों को भूमि आवंटित, 700 करोड़ के निवेश से 9000 लोगों को मिलेगा रोजगार: सतीश महाना
Lucknow News in Hindi

UP में 88 औद्योगिक इकाइयों को भूमि आवंटित, 700 करोड़ के निवेश से 9000 लोगों को मिलेगा रोजगार: सतीश महाना
सतीश महाना ने बताया कि 88 नई इकाइयों की स्थापना के लिए 46.94 एकड़ भूमि आवंटित की गई है.

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना (Satish Mahana) ने बताया कि लॉकडाउन अवधि में यूपीसीडा ने उद्यमियों के 590 आवेदनों का ऑनलाइन निस्तारण किया है. 88 नई इकाइयों की स्थापना के लिए 46.94 एकड़ भूमि आवंटित की गई है.

  • Share this:
  • fb
  • twitter
  • linkedin
लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना (Satish Mahana) ने बताया कि लॉकडाउन (Lockdown) अवधि में यूपीसीडा द्वारा उद्यमियों से प्राप्त कुल 590 आवेदनों का ऑनलाइन निस्तारण किया गया. लॉकडाउन में 88 नई इकाइयों की स्थापना के लिए 46.94 एकड़ भूमि आवंटित की गई है. उन्होंने बताया कि इन इकाइयों की स्थापना से लगभग 700 करोड़ रुपए का पूंजी निवेश होगा और करीब 9000 रोजगार के अवसर सृजित होंगे.

इन कंपनियों को उपलब्ध कराई गई भूमि
महाना ने बताया कि इसमें खाद्य प्रसंस्करण, इंजीनियरिंग, केमिकल, टेक्सटाइल आदि उद्योग सम्मिलित हैं. जिन नई इकाइयों को यूपीसीडा द्वारा भूमि उपलब्ध कराई गई है, उनमें हिन्दुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड, मैपी इंडस्ट्रीज, डी एस ग्रुप आफ इंडस्ट्री, गुरुनानक इंटरप्राइजेज, कृष्णा आर्गेनिक और मौर्य मोल्ड उद्योग प्रमुख रूप  से शामिल हैं. उन्होंने बताया कि इनमें डी एस ग्रुप ऑफ इण्डस्ट्रीज द्वारा खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों में विदेशी तकनीकी के आधार पर परियोजना लगाई जा रही है. इटली का प्रतिष्ठित उद्यम समूह मैपी उद्योग विदेशी निवेश पर आधारित परियोजनाएं स्थापित कर रहा है.

विदेशी पूंजी निवेश आकर्षित करने को उठाए गए कदम



सतीश महाना ने बताया कि इनके अलावा 22 भवन मानचित्र अनुमोदन, 65 परियोजनाओं हेतु समय विस्तारण, 136 लीज डीड निष्पादन हेतु आवदेन, 36 आवेदन लीज डीड बंधक रखे जाने हेतु एवं अन्य सेवाओं जैसे उत्पादनरत होने के प्रमाण-पत्र, अनादेय प्रमाण-पत्र, भूखण्डों पर किरायेदारी आदि संबंधित उद्यमियों से प्राप्त आवेदनों का निस्तारण किया गया है. औद्योगिक विकास मंत्री ने बताया कि प्रदेश में कोविड-19 (COVID-19) महामारी के कारण मार्च 2020 से लागू किये गए लॉकडाउन के बाद प्रदेश में औद्योगिक निवेश विशेषकर विदेशी पूंजी निवेश आकर्षित करने के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं.



ऑनलाइन उपलब्ध कराई जा रही हैं समस्त सुविधाएं
लॉकडाउन अवधि में यूपीसीडा द्वारा उद्यमियों को उपलब्ध कराए जाने वाली 21 सुविधाएं ऑनलाइन कर दी गई हैं, जिसमें भूमि का आवंटन, भवन मानचित्र, अनुमोदन, परियोजना हेतु समय विस्तारण, लीज डीड निष्पादन और उद्यमियों को वित्तीय सुविधाएं उपलब्ध कराने हेतु लीज डीड बैंकों में बंधक रखे जाने जैसी सुविधाएं सम्मलित हैं. महाना ने यह भी जानकारी दी कि लॉकडाउन अवधि में यूपीसीडा द्वारा उद्यमियों को कोविड-19 महामारी से बचाव हेतु सोशल डिस्टेंसिंग और आगमन प्रतिबंधों का पूर्णतया पालन करते हुए नए उद्योग की स्थापना एवं पूर्व में लगाई जा रही परियोजनाओं के त्वरित क्रियान्वयन हेतु समस्त सुविधाएं ऑनलाइन उपलब्ध कराई जा रही हैं, जिससे प्रदेश का औद्योगीकरण प्रभावित न हो और उद्यमियों द्वारा अधिकाधिक संख्या में नई इकाइयों की स्थापना करने में किसी कठिनाई का सामना न करना पड़े.

यह भी पढ़ें - 

औरैया हादसे पर प्रियंका गांधी बोलीं, क्या सरकार का काम बयानबाजी करना रह गया है
First published: May 17, 2020, 7:30 AM IST
अगली ख़बर

फोटो

corona virus btn
corona virus btn
Loading