कुरान से 26 आयतों को हटाने का मामला: सुप्रीम कोर्ट से वसीम रिजवी को झटका, याचिका खारिज, 50 हजार का जुर्माना भी लगा

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी

शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी

Jolt for Waseem Rizvi: सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की सुनवाई करते हुए कहा कि क्या आप वाकई में इसे लेकर सीरियस हैं? इसके बाद कोर्ट ने याचिका को आधारहीन बताते हुए याचिकाकर्ता को फटकार लगाई। साथ ही 50 हजार का जुर्माना भी लगाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 12, 2021, 1:18 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. शिया वक्फ बोर्ड (Shia Waqf Board) के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी (Waseem Rizvi) द्वारा कुरान से 26 आयतों को हटाने की मांग करने वाली याचिका पर सोमवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई हुई. सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की सुनवाई करते हुए वसीम रिजवी को न केवल फटकार लगाई बल्कि उनके ऊपर 50 हजार का जुर्माना भी लगाय. सुप्रीम कोर्ट ने याचिका को आधारहीन बताते हुए ख़ारिज भी कर दिया.

सुप्रीम कोर्ट ने याचिका की सुनवाई करते हुए कहा कि क्या आप वाकई में इसे लेकर सीरियस हैं? इसके बाद कोर्ट ने याचिका को आधारहीन बताते हुए याचिकाकर्ता को फटकार लगाई। साथ ही 50 हजार का जुर्माना भी लगाया. गौरतलब है कि वसीम रिजवी ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करते हुए कुरान से 26 आयतों को हटाने की मांग की थी.

आतंकवाद को बढ़ावा दने का दिया था हवाला

वसीम रिजवी का आरोप था कि कुरान की 26 आयतें इस्लामिक कट्टरता और आतंकवाद को बढ़ा रही हैं. लिहाजा इन आयतों को हटा दिया जाए.  कि इन आयतों के बहाने मदरसों में बच्चों को जिहाद के लिए उकसाया जा रहा हैं. इस याचिका के बाद वसीम रिजवी के खिलाफ मुस्लिम समुदाय में जबरदस्त आक्रोश देखने को मिला था. इतना ही नहीं उनके खिलाफ फतवा जारी कर उन्हें इस्लाम से खारिज भी कर दिया गया था. मुस्लिम धर्मगुरुओं ने सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन भी किया था और सरकार से  देशद्रोह का मामला दर्ज करने की भी मांग हुई थी.
जान को बताया था खतरा

हालांकि बाद में वसीम रिजवी ने एक वीडियो सन्देश जारी कर खुद को जान से मारने की धमकियां मिलने की बात कही थी. साथ ही हिंदुस्तान के लोगों से उनका समर्थन करने की भी अपील की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज