अपना शहर चुनें

States

लखनऊ: जेपी नड्डा ने दिए जीत के 'मंत्र', पन्ना प्रमुख नहीं, नए फॉर्मूले से फिर कमल खिलाने की तैयारी

जेपी नड्डा ने कार्यकर्ताओं को अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव 2023 के मद्देनजर जीत के मंत्र दिए.
जेपी नड्डा ने कार्यकर्ताओं को अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव 2023 के मद्देनजर जीत के मंत्र दिए.

JP Nadda Lucknow visit: बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने लखनऊ में अपने दो दिवसीय दौरे के अंतिम दिन पार्टी के बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन को संबोधित किया. नड्डा ने इस दौरान कार्यकर्ताओं को अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर जीत के मंत्र दिए.

  • Last Updated: January 22, 2021, 10:19 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. राजधानी लखनऊ में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के दो दिवसीय दौरे के अंतिम दिन BJP बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन का आयोजित किया गया. मुख्यमंत्री य़ोगी आदित्यनाथ, राष्ट्रीय महामंत्री संगठन बीएल संतोष और प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह के साथ-साथ बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने बतौर मुख्य अतिथि इस कार्यक्रम में शिरकत की. नड्डा ने इस दौरान कार्यकर्ताओं को अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव 2022 के मद्देनजर जीत के मंत्र दिए.

राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर विस्तार में आयोजित BJP बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन को संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा, "बीजेपी देश का सबसे अच्छा लोकतांत्रिक राजनैतिक दल है. देश के अन्य पार्टियो में परिवार का बोलबाला है. उनकी कोई प्रभावी नीति और नियति नहीं है.'


'बूथ कमेटी में समाज के हर वर्ग को शामिल करें'


इस दौरान बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा ने मंडल पदाधिकारियों की भी जिम्मेदारी और जवाबदेही तय करते हुए उन्हें अब माह में एक दिन न सिर्फ हर बूथ पर जाकर बूथ समिति के साथ बैठक करने के निर्देश दिए. नड्डा ने बूथ कमेटी में समाज के हर वर्ग के लोगों को शामिल करने की बात कही. उन्होंने कहा कि बूथ कमेटी के लोग समाज के हर वर्ग के लोगों के साथ बैठकर प्रधानमंत्री मोदी के 'मन की बात' कार्यक्रम को देखें. सामाजिक समरसता को बढ़ाने के लिए मंडल पदाधिकारियों को कभी-कभार बूथ कमिटी में शामिल लोगों के साथ बैठकर और एक-दूसरे के घर से आए भोजन और नाश्ते को बांटकर खाने की भी सलाह दी गई.


पन्ना प्रमुख के बाद अब पन्ना कमिटी


नड्डा ने कहा, 'एक बूथ पर करीब 900 से 100 वोट होते हैं और एक बूथ की लिस्ट करीब 30-35 पन्ने की होती है. एक पन्ने में 30 नाम होते हैं. इस वर्ष मैं बूथ अध्यक्षों को एक टारगेट देता हूं कि एक-एक पन्ने के लिए एक-एक कार्यकर्ता को जिम्मेदारी सौपिए. वो हर 15 दिन पर उन 30 लोगों से न सिर्फ संपर्क करे, बल्कि उनके सुख-दुख में शामिल हो. सामाजिक समरसता में योगदान करें और पूरा सम्मान देते हुए उसे मुख्यधारा में जोड़ने का काम करे. आगे चलकर हम पन्ना कमिटी बनाएंगे, वो टारगेट आपको अगली बार दूंगा. हमको पन्ना प्रमुख से पन्ना कमिटी तक जाना है. और देश के हर एक बूथ पर पन्ना कमेटी बनाकर कमल खिलाएंगे.’

अंत में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कोरोना संकट के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि लॉकडाउन में यूपी से गुजरने वाले हर मजदूर की चिंता की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज