Home /News /uttar-pradesh /

'बाबूजी से अच्छा योगी जी का शासन', कल्याण सिंह के बेटे राजवीर ने की यूपी सरकार की तारीफ

'बाबूजी से अच्छा योगी जी का शासन', कल्याण सिंह के बेटे राजवीर ने की यूपी सरकार की तारीफ

राजवीर सिंह लखनऊ में आयोजित बीजेपी पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में बोल रहे थे.

राजवीर सिंह लखनऊ में आयोजित बीजेपी पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में बोल रहे थे.

पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh) के बेटे राजवीर सिंह (Rajveer Singh) ने कहा कि, बाबू जी ने जो शासन दिया उससे अच्छा शासन योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने दिया है. अब बाबू जी को सच्ची श्रद्धांजलि देने के लिए 2022 में बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनानी होगी.

अधिक पढ़ें ...

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह (Kalyan Singh) के बेटे राजवीर सिंह (Rajveer Singh) ने कहा कि विपक्षी दल विकास होता है तो भी विरोध करते हैं, नहीं करो तो भी विरोध करते हैं. इस बार भी बीजेपी 325 सीटें जीतेगी. बीजेपी ने किसी की जाति देखकर काम नहीं किया. वे मंगलवार को लखनऊ में आयोजित बीजेपी पिछड़ा वर्ग सम्मेलन (BJP Backward Classes Conference) में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि, लोध समाज को इतना सम्मान कभी नहीं मिला. बाबू जी के जाने का बाद देश ने देखा कि उन्हें कितना सम्मान मिला. मुख्यमंत्री योगी लगातार साथ रहे. बाबू जी ने जो शासन दिया उससे अच्छा शासन योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने दिया. अब बाबू जी को सच्ची श्रद्धांजलि देने के लिए 2022 में यूपी में बीजेपी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनानी होगी.

सीएम योगी आदित्यनाथ के अलावा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, कल्याण सिंह के बेटे राजवीर सिंह और उनके बेटे संदीप सिंह के साथ ही लोध समाज के नेता और केंद्रीय मंत्री बीएल वर्मा पर सभी निगाहें जमी रहीं. सम्मेलन में कल्याण सिंह के निधन में विपक्ष के बड़े नेताओ के शामिल न होने के मुद्दे को लेकर भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने बड़ा हमला बोला है.

स्वतंत्र देव ने कहा कि, किसी भी नेता की दुखद मौत पर बड़ा दिल दिखाने के लिए पक्ष और विपक्ष सभी के नेता श्रद्धांजलि देते हैं, लेकिन शर्म की बात रहा कि एक दल ऐसा रहा जिसका मुखिया श्रद्धांजलि देने नहीं आया. ये अपमान कल्याण सिंह का नहीं, पूरे समाज का है. लोगों ने कल्याण सिंह का जमाना देखा है.

इतने महान नेता को पुष्पांजलि देने न आए, आप नहीं आए, आपने अपने दल के किसी नेता को भी नहीं भेजा. ये पूरे लोध समाज का नहीं, पूरे रामभक्तों का अपमान है. 2022 के विधान सभा चुनाव में रामभक्तों का अपमान करने वाले दल को एक भी लोध वोट देते हैं तो यह आत्महत्या करने जैसा है. सीएम अपने पिता की मौत में श्रद्धांजलि देने नहीं गए, लेकिन यूपी के महान नेता कल्याण सिंह के निधन से तेरहवीं तक लगातार साथ रहे.

Tags: Kalyan Singh, Yogi adityanath

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर