कमलेश तिवारी हत्याकांड: यूपी पुलिस ने झोंकी पूरी ताकत, फिर भी कातिल पकड़ से दूर
Lucknow News in Hindi

कमलेश तिवारी हत्याकांड: यूपी पुलिस ने झोंकी पूरी ताकत, फिर भी कातिल पकड़ से दूर
कमलेश तिवारी का कातिल अभी भी यूपी पुलिस की गिरफ्त से दूर है.

हत्यारोपी (Murder Accused) को पकड़ने के लिए यूपी पुलिस (UP Police) की कई टीमें अलग-अलग हिस्सों में भेजी गई हैं. साथ ही देश के हवाई अड्डों (airports) पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 20, 2019, 2:55 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में शुक्रवार को हिंदू समाज पार्टी (Hindu Samaj Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) की निर्मम हत्या (Murder) का खुलासा तो हो गया है, लेकिन कमलेश तिवारी की हत्या करने वाला शख्स अभी भी यूपी पुलिस (UP Police) की गिरफ्त से दूर है. यूपी पुलिस ने शूटरों को गिरफ्तार करने के लिए कई टीमों को लगा रखा है, लेकिन हत्यारा यूपी पुलिस को लगातार चकमा दे रहा है.

हत्या अरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस की कई टीमें अलग-अलग हिस्सों में भेजी गई हैं. साथ ही देश के हवाई अड्डों पर भी अलर्ट जारी कर दिया गया है, ताकि संदिग्‍ध देश से बाहर न भाग पाए. यूपी पुलिस की एक टीम गुजरात भी भेजी गई है, जिसे लखनऊ के एसपी क्राइम लीड कर रहे हैं. यूपी पुलिस को कमलेश तिवारी के कातिलों के बारे में पूरी जानकारी और सुराग मिल चुके हैं, लेकिन आरोपी कातिल अभी भी पकड़ से दूर है.

बता दें कि हिंदू समाज पार्टी (Hindu Samaj Party) के पूर्व अध्यक्ष कमलेश तिवारी (Kamlesh Tiwari) की हत्या (Murder) मामले में लखनऊ पुलिस को रविवार को बड़ी सफलता हाथ लगी है. लखनऊ पुलिस (Lucknow Police) ने रविवार को नाका इलाके के एक होटल से आरोपियों के खून से सने भगवा कपड़े बरामद किए हैं. हालांकि, कमलेश तिवारी की हत्‍या करने वाला अभी भी फरार है.



यूपी पुलिस के मुताबिक इस हत्याकांड में शामिल लगभग सभी आरोपियों की पहचान कर ली गई है.(file photo)

यूपी पुलिस ने इस हत्याकांड में अपने तेजतर्रार आईपीएस अधिकारियों की एक पूरी फौज लगा रखी है. यूपी पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक इस हत्याकांड में शामिल लगभग सभी आरोपियों की पहचान कर ली गई है. अब इस हत्याकांड में शामिल और लोगों के तार जोड़े जा रहे हैं और हत्यारोपियों के लोकेशन खंगाले जा रहे हैं.

इस हत्याकांड में गुजरात से तीन और यूपी से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. यूपी के बिजनौर के दो मौलानाओं की भी भूमिका की जांच अभी भी लखनऊ पुलिस द्वारा की जा रही है. वर्ष 2015 में इन दोनों मौलानाओं ने ही कमलेश तिवारी का सिर कलम करने वालों को डेढ़ करोड़ रुपये इनाम देने की घोषणा की थी.

ये भी पढ़ें: 

कमलेश तिवारी हत्याकांड: 74 सीसीटीवी फुटेज और 24 घंटे की मशक्कत के बाद यूपी पुलिस को मिली कामयाबी

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज