लाइव टीवी

कन्नौज: तहसीलदार को पीटने के मामले में मायावती की मांग- बीजेपी सांसद पर सख्त कदम उठाएं मुख्यमंत्री
Kannauj News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 9, 2020, 2:12 PM IST
कन्नौज: तहसीलदार को पीटने के मामले में मायावती की मांग- बीजेपी सांसद पर सख्त कदम उठाएं मुख्यमंत्री
बसपा सुप्रीमो मायावती (File Photo)

बसपा सुप्रीमो मायावती (BSP Supremo Mayawati) ने घटना को अति शर्मनाक बताया है. उन्होंने कहा कि दुःख की बात यह है कि यह सांसद अभी भी, जेल में जाने की बजाय बाहर ही घूम रहा है, जिससे पूरे प्रदेश में दलित कर्मचारियों में जबर्दस्त रोष व्याप्त है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश के कन्नौज (Kannauj) में लॉक डाउन (Lockdown) के दौरान गरीबों में राशन ठीक तरह से वितरित न करने के आरोप में बीजेपी सांसद सुब्रत पाठक (BJP MP Subrat Pathak) और उनके समर्थकों पर तहसीलदार (Tehsildar) को उनके सरकारी घर में घुसकर पीटने का आरोप लगा है. मामले में सांसद सुब्रत पाठक समेत 25 लोगों पर केस दर्ज किया गया है. उधर मामले में प्रदेश की सियासत गर्म हो गई है. बसपा सुप्रीमो मायावती ने घटना को अति शर्मनाक बताया है और मांग की है कि मुख्यमंत्री को चाहिये कि वे इस मामले में जरूर सख्त कदम उठायें ताकि यह सांसद आगे कभी भी ऐसी हरकत न कर सके.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट किया है, "उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले में अपनी ईमानदारी से ड्यूटी कर रहे एक दलित तहसीलदार के साथ अभी हाल ही में, वहां के बीजेपी सांसद ने, जो मार-पीट व दुर्व्यवहार आदि किया है, यह अति शर्मनाक है. लेकिन दुःख की बात यह है कि यह सांसद अभी भी, जेल में जाने की बजाय बाहर ही घूम रहा है, जिससे पूरे प्रदेश में दलित कर्मचारियों में जबर्दस्त रोष व्याप्त है. ऐसे में मुख्यमंत्री को चाहिये कि वे इस मामले में जरूर सख्त कदम उठायें ताकि यह सांसद आगे कभी भी ऐसी हरकत ना कर सके."

सांसद के खिलाफ तुरंत कठोर कार्रवाई हो: मायावती
मायावती ने लिखा है, " साथ ही, पूरे प्रदेश में, खासकर दलित कर्मचारियों के साथ, आगे ऐसा कोई भी बर्ताव न हो तो इसके लिए भी, इनको अपने इस सांसद के विरूद्ध तुरन्त कठोर कार्यवाही करनी चाहिये. बीएसपी की यह मांग है."






ये था पूरा मामला
जानकारी के मुताबिक, सांसद ने गरीबों की एक लिस्ट बनाकर खाने का पैकेट वितरण करने को कहा था. इसकी सूची कन्नौज सदर के तहसीलदार अरविन्द कुमार को सौंपी गई थी. लेकिन, उनके दफ्तर को शिकायत मिली कि लोगों को राशन नहीं मिल रहा है. आरोप है कि इस पर सांसद भड़क गए और वे तहसीलदार अरविन्द कुमार के सरकारी आवास पहुंच गए. इस दौरान सांसद व उनके समर्थकों ने तहसीलदार को पीटा.

मामले में डीएम ने कहा कि तहसीलदार की तरफ से मुझे फोन पर सूचना दी गई थी कि स्थानीय सांसद द्वारा उनके साथ फोन पर गाली-गलौज और धमकी दी गई है. सांसद का आरोप था कि उनके द्वारा दी गई लिस्ट पर राशन का वितरण नहीं हुआ. इस पर हमने आश्वासन दिया था कि लिस्ट की जांच कराकर राशन उपलब्ध करा दिया जाएगा. इसके बाद फिर तहसीलदार का फोन आया कि उनके साथ मारपीट हुई है. मैं तो मौके पर मौजूद नहीं था, लेकिन इस मामले में नामजद एफआईआर दर्ज कराई जाएगी.

ये भी पढ़ें:

कन्नौज: राशन न बांटने के आरोप में बीजेपी सांसद ने तहसीलदार को पीटा, केस दर्ज

Lucknow COVID-19 Update: हॉटस्पॉट इलाकों को ड्रोन से निगरानी, CM का दौरा संभव

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए कन्नौज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 2:08 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading