...जब मुलायम ने लगवाया कोरोना का टीका, डिप्‍टी CM केशव मौर्य बोले- माफी मांगें अखिलेश यादव

 डिप्‍टी CM केशव मौर्य बोले- माफी मांगें अखिलेश यादव (File photo)

डिप्‍टी CM केशव मौर्य बोले- माफी मांगें अखिलेश यादव (File photo)

इसी साल जनवरी में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कहा था कि मैं बीजेपी की वैक्‍सीन पर कैसे भरोसा कर सकता हूं, जब हमारी सरकार बनेगी तो सभी को फ्री में टीका लगेगा.

  • Share this:

लखनऊ. सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) के कोरोना वैक्सीन की डोज लेने पर उत्तर प्रदेश उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य (Deputy CM Keshav Prasad Maurya) ने अखिलेश यादव पर निशाना साधा. उन्होंने मांग की कि अखिलेश यादव माफी मांगें. उन्होंने ट्वीट किया, “सपा संरक्षक व पूर्व मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव जी स्वदेशी वैक्सीन लगवाने के लिए आपका धन्यवाद. आपके द्वारा वैक्सीन लगवाना इस बात का प्रमाण है कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश जी द्वारा वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाई गयी थी. इसके लिए अखिलेश जी को माफ़ी मांगनी चाहिए.”

मेदांता में लगवाई वैक्सीन

मुलायम सिंह यादव ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज गुड़गांव के मेदांता हॉस्पिटल में ली. पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया गया, ” आज पार्टी के संस्थापक और पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव ने कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए टीका लगवाया.” इससे पहले उनकी बहू अपर्णा यादव ने कोरोना की वैक्सीन ली थी. इस दौरान उन्होंने डॉक्टरों, रिसर्चर्स और वैज्ञानिकों का आभार व्यक्त किया था.


मुलायम की बहू अपर्णा यादव ने की अपील

इससे पहले मुलायम सिंह यादव की बहू अपर्णा यादव ने राजधानी लखनऊ स्थित लोकबंधु अस्पताल पहुंच न सिर्फ कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवाई थी, बल्कि इस दौरान देश में बनी वैक्सीन की जमकर तारीफ करते हुए अन्य लोगों से भी जल्द से जल्द वैक्सीन लगवाकर कोरोना को हराने की अपील की है.

इसी साल जनवरी में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा था कि मैं बीजेपी की वैक्‍सीन पर कैसे भरोसा कर सकता हूं, जब हमारी सरकार बनेगी तो सभी को फ्री में टीका लगेगा, हम बीजेपी की वैक्‍सीन नहीं लगवा सकते. इस बयान के बाद काफी हंगामा हुआ था. हालांकि, कोरोना की दूसरी लहर के बाद अखिलेश यादव के सुर बदले और वह सभी लोगों को फ्री में वैक्सीन लगाने की वकालत करने लगे

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज