अखिलेश यादव ने राकेश टिकैत को फोन कर पूछा हाल, बोले- किसानों के साथ है सपा

अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर हमलावर होते हुए कहा कि वो झूठे आंकड़े पेश कर देश को गुमराह कर रही है (फाइल फोटो)

अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर हमलावर होते हुए कहा कि वो झूठे आंकड़े पेश कर देश को गुमराह कर रही है (फाइल फोटो)

सपा प्रमुख अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने साथ ही ट्वीट किया कि सबका पेट भरने वाले किसानों को भाजपा भूखा-प्यासा रखकर व झूठे आरोप लगाकर हराना चाहती है लेकिन चंद भाजपाइयों को छोड़कर सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी आज भी किसानों के साथ खड़े हैं. सपा किसानों के साथ है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 29, 2021, 5:56 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh  Yadav) ने किसान नेता राकेश टिकैत को फोन कर उनका हालचाल जाना है. बातचीत में राकेश टिकैत ने अखिलेश यादव को सेहत का हाल बताया है. बता दें किसान नेता राकेश टिकैत ने गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलन खत्म करने से इनकार कर दिया है. प्रशासन के बात करने पर भी उन्होंने अपना फैसला बदलने से मना कर दिया. देर रात गाज़ियाबाद के दो एडीएम और दो एसपी राकेश टिकैत से बात करने मंच पर पहुंचे थे. एडीएम शैलेन्द्र ने बताया कि वो उनकी तबियत पूछने आए थे अभी तक किसी तरह की कार्यवाही शुरू नहीं है.

फोन पर बात करने के बाद अखिलेश यादव ने ट्वीट कर बताया कि अभी राकेश टिकैत जी से बात करके उनके स्वास्थ्य का हाल जाना. भाजपा सरकार ने किसान नेताओं को जिस तरह आरोपित व प्रताड़ित किया है, वो पूरा देश देख रहा है. आज तो भाजपा के समर्थक भी शर्म से सिर झुकाए और मुंह छिपाए फिर रहे हैं. आज देश की भावना और सहानुभूति किसानों के साथ है.

Youtube Video


'किसानों को भाजपा भूखा-प्यासा रखकर व झूठे आरोप लगाकर हराना चाहती है'
अखिलेश यादव ने साथ ही ट्वीट कर बीजेपी सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने लिखा, “सबका पेट भरने वाले किसानों को भाजपा भूखा-प्यासा रखकर व झूठे आरोप लगाकर हराना चाहती है लेकिन चंद भाजपाइयों को छोड़कर सवा सौ करोड़ हिंदुस्तानी आज भी किसानों के साथ खड़े हैं. सपा किसानों के साथ है!”

tweet
सपा प्रमुख अखिलेश यादव का ट्वीट


किसान अगले चुनाव में सरकार की क्रूरता का जवाब वोट से देंगे



इससे पहले गुरुवार रात अखिलेश ने ट्वीट किया, “आज जिस तरह छल-बल का प्रयोग कर भाजपा सरकार किसानों के आंदोलन को कुचल रही है, उससे किसानों के साथ-साथ हर सच्चे भारतीय की आत्मा रो रही है. किसान अगले चुनाव में सरकार की क्रूरता का जवाब वोट से देंगे. आज भाजपा जिन किसानों को सड़क से उठा रही है, वो कल भाजपा को ही सड़क पर ले आएंगे.”

आंदोलन में शामिल 6 किसान नेताओं से आज पूछताछ करेगी क्राइम ब्रांच

बता दें गणतंत्र दिवस पर कृषि कानून के विरोध में किसानों की ओर से निकाली गई ट्रैक्‍टर परेड के दौरान दिल्‍ली में भड़की हिंसा और बवाल के बाद दिल्‍ली पुलिस ने किसान आंदोलन में शामिल 6 किसान नेताओं को पूछताछ के लिए बुलाया है. सूत्रों के मुताबिक जिन नेताओं को क्राइम ब्रांच में बुलाया गया है उनमें बूटा सिंह बुर्जगिल, दर्शन पाल सिंह, राकेश टिकैत, शमशेर पंधेर, पन्नू पंधेर और सतनाम पन्नू शामिल हैं.

दिल्‍ली पुलिस के सूत्रों के मुताबिक हिंसा में शामिल 6 संदिग्धों की फुटेज पुलिस के हाथ लग गई है. इन 6 संदिग्धों को पकड़ने के बाद पूछताछ के आधार पर हिंसा भड़काने में शामिल अन्‍य लोगों की भूमिका का भी पता लगाया जा सकेगा. फुटेज के आधार पर इन सभी तलाश की जा रही है. दरअसल पुलिस के पास जो तमाम सीसीटीवी फुटेज और वीडियो मौजूद हैं, उन्हीं की जांच के बाद इन 6 उपद्रवियों के बारे में पुलिस को पता चला है. अब इनकी तलाश तेज कर दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज