जानिए कौन हैं अवतार सिंह भड़ाना, कैसे बिना विधायकी जीते बन गए थे मंत्री

अवतार सिंह भड़ाना का पश्चिम यूपी और हरियाणा के गुर्जर बेल्ट में अच्छी पकड़ मानी जाती है. अवतार सिंह के रसूख का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 31 साल की उम्र में बिना विधायक बने ही उन्हें मंत्री पद मिल गया था.

News18 Uttar Pradesh
Updated: February 14, 2019, 3:27 PM IST
जानिए कौन हैं अवतार सिंह भड़ाना, कैसे बिना विधायकी जीते बन गए थे मंत्री
अवतार सिंह भड़ाना की फाइल फोटो
News18 Uttar Pradesh
Updated: February 14, 2019, 3:27 PM IST
मुजफ्फरनगर के मीरपुर से बीजेपी विधायक अवतार सिंह भड़ाना गुरुवार को लखनऊ में 'घर वापसी' करने जा रहे हैं. वे प्रियंका गांधी की मौजूदगी में बीजेपी का साथ छोड़ कांग्रेस का दामन थामेंगे. वैसे तो अवतार सिंह भड़ाना ने अपना राजनीतिक सफ़र कांग्रेस पार्टी से ही शुरू किया था. लेकिन समय-समय पर वे पाला बदलने में भी माहिर रहे हैं.

अवतार सिंह भड़ाना की पश्चिम यूपी और हरियाणा के गुर्जर बेल्ट में अच्छी पकड़ मानी जाती है. अवतार सिंह के रसूख का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 31 साल की उम्र में उन्हें बिना विधायक बने ही उन्हें मंत्री पद मिल गया था. दरअसल 1988 में हरियाणा के तत्कालीन मुख्यमंत्री चौधरी देवीलाल ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल में शहरी स्थानीय निकाय राज्य मंत्री बनाया था. हालांकि तब चौधरी देवीलाल के पुत्र और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री चौधरी ओमप्रकाश चौटाला के विरोध के कारण छह माह बाद ही भड़ाना की मंत्रिमंडल से विदाई हो गई थी.

इसके बाद भड़ाना कांग्रेस में शामिल हो गए. फिर इनेलो में होते हुए बीजेपी पहुंचे. अब वे एक बार फिर कांग्रेस में घर वापसी कर रहे हैं. उन्होंने हरियाणा की फरीदाबाद सीट से टिकट के लिए दावेदारी की है. भड़ाना फरीदाबाद से तीन बार और एक बार मेरठ लोकसभा क्षेत्र से सांसद रह चुके हैं. 2014 का लोकसभा चुनाव अवतार भड़ाना ने फ़रीदाबाद संसदीय सीट से कांग्रेस के टिकट पर लड़ा था, तब उनके सामने बीजेपी के कृष्णपाल गुर्जर विजयी हुए थे. इसके बाद उन्होंने 2017 का विधानसभा चुनाव बीजेपी के टिकट पर लड़ा और विजयी रहे. अवतार सिंह भड़ाना और फरीदाबाद से बीजेपी सांसद कृष्णपाल गुर्जर एक दूसरे पर हमेशा ही अंगुली उठाते रहे हैं. भड़ाना का बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल होने का असर यूपी के साथ पडोसी राज्य हरियाणा में भी देखने को मिल सकता है.



ये भी पढ़ें:

गठबंधन के लिए प्रियंका गांधी के 'दूत' से मिले शिवपाल, आज शाम को फिर होगी बात!

मोदी के दोबारा PM बनने की मुलायम के बयान पर राहुल बोले- मैं सहमत नहीं

चंदौली में मूर्ति विसर्जन के दौरान हिंसा, जमकर हुई मारपीट, बाइक फूंकीं-बसों में तोड़फोड़
Loading...

दूल्हे ने होने वाली पत्नी की जगह 'PM मोदी' के नाम की रचाई मेहंदी, पूर्व CM ने दिया आशीर्वाद

OPINION: प्रियंका गांधी के सामने घरानों से बचकर घर तक जाने की चुनौती

प्रयागराज से काशी के बीच इस तरह चलेंगे फाइव स्टार क्रूज, गडकरी ने बताया पूरा प्लान!

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...