अपना शहर चुनें

States

लव जिहाद पर बोले UP लॉ कमीशन के चीफ- लालच देकर धर्म परिवर्तन कराया तो 3 साल की सजा

उत्तर प्रदेश लॉक कमीशन के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल (Photo: ANI)
उत्तर प्रदेश लॉक कमीशन के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल (Photo: ANI)

उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन (UP Law Commission) के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल ने कहा है कि यूपी में कोई भी धर्मांतरण गलत बयानी या किसी प्रलोभन के माध्यम से किया गया तो इसे अवैध करार दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 24, 2020, 11:22 PM IST
  • Share this:
लखनऊ. देश में ‘लव जिहाद’ (Love Jihad) को लेकर जारी चर्चाओं के बीच उत्तर प्रदेश सरकार (UP Government) आज मंगलवार को अपनी कैबिनेट बैठक में इसके खिलाफ कानून पर अंतिम मुहर लगाने की तैयारी में है. इस मसले पर योगी सरकार पहले ही अपना रुख साफ कर चुकी है कि यूपी में लव जिहाद के नाम पर धर्म परिवर्तन कराने वाले और महिलाओं के साथ अत्याचार करने वालों की खैर नहीं है.

इस बीच उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन के प्रमुख न्यायमूर्ति (रिटायर्ड) आदित्यनाथ मित्तल ने कहा है, 'लव जिहाद पर हमारी रिपोर्ट में अवैध धर्मांतरण को रोकने का प्रावधान है. कोई भी धर्मांतरण गलत बयानी या किसी प्रलोभन के माध्यम से किया गया तो इसे अवैध करार दिया जाएगा और 3 साल की सजा होगी.'


मुख्यमंत्री दे चुके हैं प्रस्ताव को हरी झंडी
दरअसल पहले उत्तर प्रदेश लॉ कमीशन ने अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री को सौंपी थी, जिसके बाद यूपी के गृह विभाग ने बाकायदा इसकी रूपरेखा तैयार कर न्याय एवं विधि विभाग से अनुमति ली. अब मुख्यमंत्री की हरी झंडी के बाद इसे कैबिनेट बैठक में पेश किए जाने की तैयारी है. जानकारी के अनुसार आज शाम को 4.30 बजे होने वाली कैबिनेट बैठक में लव जिहाद के कानून पर अंतिम मुहर लग जाएगी.



जानकारी के अनुसार जो प्रस्ताव तैयार किया गया है, उसमें इस कानून के बनने के बाद इसके अंतर्गत अपराध करने वालों को सजा का प्रावधान है. साथ ही शादी के नाम पर धर्म परिवर्तन भी नहीं किया जा सकेगा. यही नहीं शादी कराने वाले मौलाना या पंडित को उस धर्म का पूरा ज्ञान होना चाहिए. कानून के मुताबिक धर्म परिवर्तन के नाम पर अब किसी भी महिला या युवती के साथ उत्पीड़न नहीं हो सकेगा. और ऐसा करने वाले सीधे सलाखों के पीछे होंगे.



लव जिहाद को सख्ती से रोकेंगे: सीएम
बता दें यूपी विधानसभा उपचुनाव के दौरान जौनपुर जिले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा था कि इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कहा कि शादी के लिए धर्म परिवर्तन आवश्यक नहीं है. इसको मान्यता नहीं मिलनी चाहिए. इसलिए सरकार भी निर्णय ले रही है कि हम लव जिहाद को सख्ती से रोकने का काम करेंगे. एक प्रभावी कानून बनाएंगे. इस देश में चोरी-छिपे, नाम और धर्म छुपाकर जो लोग बहन-बेटियों के साथ खिलवाड़ करते हैं, उनको पहले से मेरी चेतावनी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज