Home /News /uttar-pradesh /

यूपी में फिर शुरू 'अपना दल' में घमासान, कृष्णा पटेल ने अनुप्रिया की पार्टी को बताया क्लोन

यूपी में फिर शुरू 'अपना दल' में घमासान, कृष्णा पटेल ने अनुप्रिया की पार्टी को बताया क्लोन

कृष्णा पटेल

कृष्णा पटेल

लोकसभा चुनाव में गठबंधन के सवाल पर कृष्णा पटेल ने कहा कि हमारी सभी दलों से बातचीत चल रही है. जो अपना दल की विचारधारा को मानेगा, हम उसके साथ जाएंगे.

    यूपी विधानसभा चुनाव के दौरान अपना दल में मचा घमासान डेढ़ साल बाद एक बार फिर सामने आने लगा है. मामले में एक गुट को लीड कर रहीं कृष्णा पटेल ने अनुप्रिया पटेल के पति आशीष पटेल पर आरोप लगाए हैं. कृष्णा पटेल ने दावा किया है कि असली अपना दल पार्टी उनकी ही है. आशीष पटेल अपना दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष नहीं हैं.

    यूपी में गठबंधन को विस्तार देने की तैयारी में बीजेपी, गुपचुप ढंग से चल रहा काम

    कृष्णा पटेल ने कहा कि जब अपना दल का गठन हुआ था, तब आशीष कहीं कोई कार्यकर्ता भी नहीं थे.
    वहीं लोकसभा चुनावों को लेकर कृष्णा पटेल किससे गठबंधन करेगीं. इस पर उन्होंने कहा कि हमारी सभी दलों से बातचीत चल रही है. जो अपना दल की विचारधारा को मानेगा, हम उसके साथ जाएंगे. वहीं अगर बात नहीं बनती है तो अपना दल यूपी में 30 से 35 सीटों पर अपना प्रत्याशी उतारेगा.

    कृष्णा पटेल ने कहा कि अनुप्रिया पटेल को को अपना दल ने सांसद बनाया था. वहीं अपना दल का राष्ट्रीय अध्यक्ष उन्हें कार्यकर्ताओं ने बनाया था. उन्होंने कहा कि अपना दल में कोई गुट नहीं है. अपना दल एक ही है, कोई दूसरा नहीं है.

    अवैध रेत खनन मामले में अखिलेश यादव समेत सभी मंत्रियों के खिलाफ जांच करेगी सीबीआई

    उन्होंने कहा कि अपना दल की स्थापना के बाद से अब तक कई लोग हमसे अलग हुए और अपनी नई पार्टियां बनाईं. ये सभी अपना दल के क्लोन हैं. इस दौरान कृष्णा पटेल ने कहा कि योगी सरकार ने निराश्रित गौवंश के लिए जो गौशालाओं की घोषणा की है, उसका वह स्वागत करती हैं. इससे किसानों को बड़ी राहत मिलेगी.

    यूपी खनन घोटाला: सीबीआई रेड में मिले अहम दस्तावेज, टीम दिल्ली रवाना

    वहीं गठबंधन की बात पर कृष्णा पटेल ने कहा कि हमारे पास सभी विकल्प खुले हैं. कांग्रेस, बसपा, सपा और तमाम पार्टियों के शीर्ष नेतृत्व से हमारी बात चल रही है. हम किसी के साथ भी गठबंधन कर सकते हैं. सम्मानजनक सीटें मिलीं तो बीजेपी से भी गठबंधन हो सकता है.

    उन्होंने कहा कि अनुप्रिया पटेल को पार्टी ने गंभीर आर्थिक कदाचार में लिप्त पाए जाने के कारण और पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते 2015 में उन्हें निष्कासित किया जा चुका है.

    ये भी पढ़ें: 

    खनन घोटाले में सीबीआई रेड: BJP ने अखिलेश यादव पर दागे ये सवाल, मांगा जवाब

    बीजेपी विधायक राघवेंद्र प्रताप सिंह को पड़ा हार्ट अटैक, PGI में भर्ती

    सोशल मीडिया पर CM योगी और अखिलेश से ज्‍यादा पॉपुलर IAS बी चंद्रकला

    शामली में ताबड़तोड़ एनकाउंटर, इनामी सहित सात बदमाश गिरफ्तार

    Tags: Anupriya Patel, Lucknow news, Up news in hindi, Uttar Pradesh Politics, Uttarpradesh news, लखनऊ

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर