Home /News /uttar-pradesh /

निर्भया केस में फांसी देने के लिए तिहाड़ से यूपी के डीजी जेल को भेजा गया पत्र, पवन जल्लाद की मांग

निर्भया केस में फांसी देने के लिए तिहाड़ से यूपी के डीजी जेल को भेजा गया पत्र, पवन जल्लाद की मांग

निर्भया केस में फांसी के लिए तिहाड़ जेल से यूपी के डीजी जेल के पास पत्र भेजा गया है.

निर्भया केस में फांसी के लिए तिहाड़ जेल से यूपी के डीजी जेल के पास पत्र भेजा गया है.

उधर मेरठ जिला कारागार (Meerut District Jail) में वरिष्ठ जेल अधीक्षक ने पवन जल्लाद को जेल बुलाकर उसकी उपस्थिति दर्ज कराई. उसकी रोजाना उपस्थिति के लिए रजिस्टर बन गया है और उसके शहर से बाहर जाने पर फिलहाल रोक लगा दी गई है.

    लखनऊ. निर्भया कांड (Nirbhaya Case) के चारों दोषियों (Convicts) को 22 जनवरी की सुबह फांसी (Execution) पर चढ़ाया जाएगा. उधर इस प्रक्रिया के लिए तिहाड़ जेल से उत्तर प्रदेश के डीजी जेल आनंद कुमार को पत्र भेजा गया है. बता दें पत्र में मेरठ के पवन जल्लाद की मांग की गई है. पत्र मिलने के बाद अब पवन जल्लाद को यूपी जेल प्रशासन फांसी देने के लिए तिहाड़ भेजेगा.

    उधर सबकी निगाहें पवन जल्लाद (Pawan Jallad) पर टिकी हुई हैं. पवन जल्लाद से जब पूछा गया कि क्या ऐसे गुनहगारों को सार्वजनिक तौर पर फांसी दी जानी चाहिए तो उसने कहा कि उसकी व्यक्तिगत भावना है कि ऐसे गुनहगारों को बीच चौराहे पर सूली पर चढ़ा देना चाहिए. हालांकि पवन जल्लाद ने कहा कि न्यायपालिका जो कर रही है, अच्छा कर रही है.

    दोषियों को फांसी देने को बेताब है पवन जल्लाद
    पवन जल्लाद का कहना है कि वो तिहाड़ जेल जाकर दोषियों को फांसी देने के लिए बेताब है. इस बीच मेरठ जिला कारागार में पवन जल्लाद की हाजिरी रोजाना लग रही है और ये हाजिरी 15 जनवरी तक रोज लगेगी. पवन जल्लाद को मेरठ जिला कारागार में फांसी की बारीकियां भी समझाई जा रही हैं. जल्लाद के शहर के बाहर जाने पर भी फिलहाल जेल प्रशासन की तरफ से रोक लगा दी गई है.

    Pawan Jallad
    फांसी देने की तैयारी में पवन जल्लाद.


    मेरठ जिला जेल में चल रही प्रैक्टिस
    मेरठ जिला कारागार के वरिष्ठ जेल अधीक्षक ने पवन जल्लाद को जेल बुलाकर उसकी उपस्थिति दर्ज कराई. उसकी रोजाना उपस्थिति के लिए रजिस्टर बन गया है और उसके शहर से बाहर जाने पर फिलहाल रोक लगा दी गई है. वरिष्ठ जेल अधीक्षक बीडी पांडे को आलाधिकारियों की तरफ से भी मौखिक निर्देश दिए जा चुके हैं कि पवन जल्लाद को फांसी की बारीकियां बताई जाएं. ताकि फांसी लगाते समय वो विचलित न हो. सूत्रों के अनुसार पवन को ये भी बताया गया है कि फांसी लगवाने की एवज में दिल्ली सरकार उसे मानदेय देगी. ये भी हो सकता है कि सरकार 15 जनवरी को पवन जल्लाद को रिहर्सल के लिए दिल्ली बुला ले. वरिष्ठ जेल अधीक्षक का कहना है कि पवन को फांसी की पूरी जानकारी है लेकिन फिर भी रिहर्सल करना जरूरी है.

    इनपुट: अजीत सिंह

    ये भी पढ़ें:

    CAA हिंसा: मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने कानपुर पहुंचे अखिलेश यादव

    यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने प्रियंका को कहा- टि्वटर वाड्रा

    Tags: Lucknow news, Nirbhaya, Up news in hindi, Uttarpradesh news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर