लाइव टीवी

MP ही नहीं UP की इन दबंग लेडी आईएएस अफसरों ने भी खूब बटोरीं थीं सुर्खियां, खड़ा हुआ था सियासी बवाल
Lucknow News in Hindi

News18 Uttar Pradesh
Updated: January 23, 2020, 12:30 PM IST
MP ही नहीं UP की इन दबंग लेडी आईएएस अफसरों ने भी खूब बटोरीं थीं सुर्खियां, खड़ा हुआ था सियासी बवाल
अपनी तेज तर्रार छवि की बदौलत सुर्ख़ियों में रहीं आईएएस बी चंद्रकला और दुर्गाशक्ति नागपाल

आईएएस बी चंद्रकला (B Chandrakala) और आईएएस दुर्गाशक्ति नागपाल (Durgashakti Nagpal) अपने तेज तर्रार छवि के बदौलत सोशल मीडिया पर छाई रहीं. इतना ही नहीं दोनों के काम करने के अंदाज से सियासी बखेड़ा भी खड़ा हुआ.

  • Share this:
लखनऊ. मध्य प्रदेश के राजगढ़ (Rajgarh) की कलेक्टर (डीएम) निधि निवेदिता और डिप्टी कलेक्टर प्रिया वर्मा को लेकर मध्य प्रदेश में बीजेपी (BJP) और कांग्रेस (Congress) आमने-सामने आ गईं हैं. बीजेपी कार्यकर्ताओं को पीटने के मामले जहां कांग्रेस दोनों आईएएस अफसरों को सम्मानित करने की बात कर रही है तो वहीं बीजेपी दोनों के खिलाफ एफआईआर की मांग कर रही. मध्य प्रदेश की इन दोनों महिला अफसरों की तरह ही यूपी कैडर की दो दबंग महिला आईएएस (IAS) अफसरों ने भी खूब सुर्खियां बटोरी थीं. आईएएस बी चंद्रकला (B Chandrakala) और आईएएस दुर्गाशक्ति नागपाल (Durgashakti Nagpal) अपने तेज तर्रार छवि के बदौलत सोशल मीडिया पर छाई रहीं. इतना ही नहीं दोनों के काम करने के अंदाज से सियासी बखेड़ा भी खड़ा हुआ.

दुर्गाशक्ति ने गिरवा दी थी मस्जिद की दीवार

27 जुलाई 2013 को तत्कालीन एसडीएम रहते हुए दुर्गाशक्ति नागपाल ने ग्रेटर नोएडा के रबूपुरा के गांव काद्लपुर में सरकारी जमीन पर बन रहे मस्जिद की दीवार को गिरवा दिया था. इसके बाद बवाला मच गया. तत्कालीन अखिलेश सरकार ने एसडीएम की कार्रवाई को सांप्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने वाला कृत्य माना था और उन्हें सस्पेंड कर दिया था. सरकार के इस एक्शन के बाद सोशल मीडिया से लेकर सड़कों तक सियासत शुरू हो गई थी. इतना ही नहीं राहुल गांधी भी सड़कों पर नजर आए. मामला बढ़ता देख तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी हस्तक्षेप करना पड़ा था.

सरेआम भ्रष्ट अफसरों को फटकार लगाकर सोशल मीडिया पर छाई चंद्रकला

हमीरपुर, मथुरा, बुलंदशहर समेत कई जिलों की डीएम रहीं 2008 बैच की आईएस बी चंद्रकला सोशल मीडिया पर किसी सत्र से कम नहीं है. उनकी फैन फोलोविंग इस बात की तस्दीक करती है. सरेआम भ्रष्ट अधिकारीयों को फटकार लगाकर सुर्ख़ियों में रहने वाली बी चंद्रकला पर फिलहाल अवैद खनन मामले में जांच चल रही है. उन पर आरोप है कि उन्होंने हमीरपुर का डीएम रहते हुए अवैध तरीके से करीबियों को पट्टे बांटे, जिसके बाद लखनऊ स्थित उनके आवास पर सीबीआई की छापेमारी भी हुई. सीबीआई के कार्रवाई के बाद एक बार फिर आईएएस बी चंद्रकला ने फेसबुक पोस्ट पर एक कविता शेयर सियासतदानों को चुनौती दी. उनका यह पोस्ट भी खूब वायरल हुआ था.

विदेश में रहते हुए लिया डीएम का चार्ज

इतना ही नहीं 15 अक्टूबर 2015 को आईएएस अधिकारी बी चंद्रकला का ट्रांसफर डीएम मथुरा से डीएम बुलंदशहर के पद पर हुआ था. उस दौरान बी चंद्रकला दुबई में छुट्टियां मना रहीं थीं. छुट्टी पर जाने के दो दिन बाद ही यूपी शासन ने ट्रांसफर आदेश जारी कर दिया. साथ ही तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने निर्देशा जारी किया था कि सभी अधिकारी आदेश जारी होने की रात ही अपना चार्ज संभाल लें. मतलब हर हाल में बी चंद्रकला को दुबई में रहते हुए भी उसी रात बुलंदशहर डीएम का चार्ज लेना था. लिहाजा उन्होंने फैक्स और ईमेल के जरिए चार्ज ले लिया था. माना जाता है कि विदेश में रहते हुए इस तरह से किसी जिले के डीएम का चार्ज लेनी वाली बी चंद्रकला पहली आईएएस अधिकारी हैं.ये भी पढ़ें:CAA: विरोधियों को राजनाथ का जवाब- भारत के मुसलमान को कोई छू भी नहीं सकता

CM योगी आदित्यनाथ बोले- सीएए प्रदर्शन के नाम पर बर्दाश्त नहीं करेंगे हिंसा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए लखनऊ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 23, 2020, 11:54 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर