LIVE NOW

BJP सांसद साक्षी महाराज का विवादित बयान, कहा- जैश-ए-मोहम्मद ने बनाया है कांग्रेस का घोषणा पत्र

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव शनिवार को कन्नौज से अपना नामांकन दाखिल करेंगी. इस मौके पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव समते सपा के कई नेता मौजूद रहेंगे.

Hindi.news18.com | April 7, 2019, 12:09 AM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated April 7, 2019
4:01 pm (IST)

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने एक और नई लिस्ट जारी कर दी है. इस लिस्ट में बीजेपी ने चार लोकसभा प्रत्याशियों के नामों का ऐलान किया है. वहीं, यूपी की सिंहासन विधानसभा सीट के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए भी प्रत्याशी घोषित किया है. बीजेपी ने झांसी लोकसभा सीट से अनुराग शर्मा को टिकट दिया है.

3:58 pm (IST)
दस्यु सरदार मलखान सिंह धौरहरा से लड़ेंगे चुनाव

3:49 pm (IST)

चंबल के पूर्व दस्यु सम्राट 'डाकू' मलखान सिंह अखिल भारतीय खंगार क्षत्रिय महासभा के राष्ट्रीय संरक्षक भी हैं.

3:38 pm (IST)

कभी बीहड़ में आतंक का पर्याय रहे 'डाकू' मलखान सिंह को शिवपाल यादव की पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) ने धौरहरा लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाया है.

2:29 pm (IST)

डिंपल को सपा-बसपा-रालोद का प्रत्याशी बनाया गया है. कन्नौज संसदीय सीट पर सपा से डिंपल यादव और बीजेपी के सुब्रत पाठक के बीच लड़ाई है. 2014 के लोकसभा चुनाव में भी डिंपल यादव और सुब्रत पाठक आमने सामने थे. लेकिन जीत डिंपल यादव की हुई थी.


2:27 pm (IST)

कन्नौज सांसद डिम्पल यादव का नामांकन कार्यक्रम की तस्वीरे सपा ने किया ट्वीट...


2:22 pm (IST)

कन्नौज से समाजवादी पार्टी (सपा) की उम्मीदवार डिंपल यादव ने नामांकन दाखिल किया. अखिलेश यादव, रामगोपाल यादव, जया बच्चन और बसपा के एससी मिश्रा भी मौजूद रहें.


2:19 pm (IST)
सांसद डिंपल यादव कन्नौज लोकसभा क्षेत्र से नामांकन किया. इस मौके पर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव, जया बच्चन और बसपा के सतीश मिश्रा भी मौजूद रहें.

2:14 pm (IST)

नामांकन दाखिल करने से पहले कन्नौज से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार डिंपल यादव ने कहा कि सपा-बसपा के बीच गठबंधन होने के बाद से जीत का अंतर बहुत बड़ा होगा. बीजेपी ने अपने वादे पूरे नहीं किए और अब ध्यान हटाने के लिए बीजेपी सुरक्षा बलों का इस्तेमाल कर रही है. यह एक असफल सरकार रही है.


LOAD MORE
लोकसभा चुनाव को लेकर नेताओं की सियासी बयानबाजी जारी है. यूपी के उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज ने एक बार फिर कांग्रेस पर हमला बोला है. साक्षी महाराज ने कहा है कि कांग्रेस के घोषणा पत्र को देखकर लगता है कि इसे आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने तैयार किया है.

वहीं, समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव शनिवार को कन्नौज से अपना नामांकन दाखिल किया. इस मौके पर अखिलेश यादव समेत सपा के कई नेता मौजूद थे. इस दौरान बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद मिश्रा पहली बार समाजवादी पार्टी के नामांकन में शामिल होने के लिए कन्नौज पहुंचे.

2019 लोकसभा चुनाव में गठबंधन के तहत चुनाव लड़ रही समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी की पहली ज्वॉइंट रैली 25 साल बाद सहारनपुर के देवबंद में रविवार को होने जा रही है.

डिंपल को सपा-बसपा-रालोद का प्रत्याशी बनाया गया है. कन्नौज संसदीय सीट पर सपा से डिंपल यादव और बीजेपी के सुब्रत पाठक के बीच लड़ाई है. 2014 के लोकसभा चुनाव में भी डिंपल यादव और सुब्रत पाठक आमने सामने थे. लेकिन जीत डिंपल यादव की हुई थी. 2014 के लोकसभा चुनाव में भी कांग्रेस ने डिंपल यादव के खिलाफ कन्नौज से कोई उम्मीदवार मैदान में नहीं खड़ा किया था. हालांकि मोदी लहर में डिंपल यादव को इस सीट पर बीजेपी के सुब्रत पाठक ने कड़ी टक्कर दी थी. डिंपल ने महज 19,907 वोटों से जीत दर्ज की थी.

ये भी पढ़ें-

डिंपल यादव ने दाखिल किया नामांकन, पहली बार BSP के सतीश चंद मिश्रा हुए शामिल

फतेहपुर पहुंची प्रियंका गांधी, बोलीं- धर्म की आड़ में आकर न करे मतदान

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी WhatsApp अपडेट्स

फोटो

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें

टॉप स्टोरीज