Lockdown 5.0: 8 जून के बाद खुलेंगे धार्मिक स्थल, धर्मगुरु बोले- सभी करेंगे नियमों का पालन
Lucknow News in Hindi

Lockdown 5.0: 8 जून के बाद खुलेंगे धार्मिक स्थल, धर्मगुरु बोले- सभी करेंगे नियमों का पालन
ईदगाह के इमाम और वरिष्ठ धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली

सरकार से मिली रियायतों के बाद ईदगाह के इमाम और वरिष्ठ धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है.

  • Last Updated: May 31, 2020, 6:14 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. 1 जून से लॉकडाउन फाइव (Lockdown 5.0) की शुरुआत के साथ ही धीरे-धीरे अब लोगों के लिए रियायतें बढ़ाई जा रही हैं. हालांकि गृह मंत्रालय ने अगले 1 महीने तक यानी 30 जून तक लॉकडाउन को बढ़ा दिया है, लेकिन बहुत सारी सहूलियत भी लोगों को दी गई है. इन रियायतों में धार्मिक स्थलों को भी खोले जाने की बात गाइडलाइन में कहीं गई है. गृह मंत्रालय की तरफ से जारी गाइडलाइन में 8 जून के बाद नियम कानूनों के साथ धार्मिक संस्थाएं (Religious Places) खोलने की अनुमति दी गई है. यानी कि 8 जून के बाद मंदिर, मस्जिद, चर्च और गुरुद्वारे जैसे सभी धार्मिक स्थल खोले जा सकेंगे.

सरकार से मिली रियायतों के बाद ईदगाह के इमाम और वरिष्ठ धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फरंगी महली ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है. मौलाना खालिद रशीद ने कहा कि सरकार का यह फैसला सराहनीय है और हम सब इस फैसले का स्वागत करते हैं. उन्होंने यह भी कहा कि 8 जून के बाद से जो धार्मिक स्थल खोले जाने हैं वहां पर सभी जिम्मेदार लोग नियम कानूनों का पूरी तरह से पालन करें. उन्होंने कहा कि जो भी गाइडलाइन धार्मिक स्थलों को लेकर जारी हो उसको पूरी तरह से पालन किया जाए. लोग धार्मिक स्थलों के बाहर भीड़ ना लगाएं और सरकारी हर नियम कानून का पालन हो.

बता दें कि कुछ दिन पहले ही ईदगाह के इमाम ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर सभी धार्मिक स्थलों को खोले जाने की मांग की थी. उन्होंने ईदगाह में एक सर्वधर्म बैठक का आयोजन करके सभी धर्म गुरुओं से मुलाकात करने के बाद इस बात की मांग मुख्यमंत्री से की थी.



महंत नरेंद्र गिरी ने भी किया स्वागत



धार्मिक स्थलों को खोले जाने के फैसले का साधु संतों की सर्वोच्च संस्था अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद ने स्वागत किया है. महंत नरेंद्र गिरी ने कहा है कि कोरोना के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए जनता कर्फ्यू के दिन 22 मार्च से ही सभी धार्मिक स्थल श्रद्धालुओं के लिए बंद कर दिये गए थे. अब केंद्र सरकार गाइडलाइन के साथ आठ जून से सभी धार्मिक स्थलों को खोलने की अनुमति दे रही है. जिसका सभी संत महात्मा स्वागत कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें:

69000 शिक्षक भर्ती: इलाहाबाद HC ने अभ्यर्थियों को नहीं दी अंतरिम राहत

UP के सरकारी स्कूलों के 1.80 करोड़ छात्रों के लिए राशन घर भेजेगी सरकार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading