UP में बढ़ाई जाएगी आंशिक लॉकडाउन की समय सीमा, 7 जून तक रह सकता है कोरोना कर्फ्यू

UP में बढ़ाई जाएगी आंशिक लॉकडाउन की समय सीमा (सांकेतिक फोटो)

UP में बढ़ाई जाएगी आंशिक लॉकडाउन की समय सीमा (सांकेतिक फोटो)

प्रदेश में संक्रमण की दर में तेजी से गिरावट दर्ज की जा रही है. उत्तर प्रदेश में टेस्ट,ट्रेस और ट्रीट की नीति के अनुरूप योगी सरकार (Yogi Government) की नीति के सफल परिणाम देखने को मिल रहे हैं.

  • Share this:

लखनऊ. कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के बढ़ते संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए एक बार फिर वीकेंड कोरोना कर्फ्यू (Weekend Corona Curfew) की समय सीमा बढ़ाई जा सकती हैं. जानकारी के मुताबिक उत्तर प्रदेश में आंशिक कोरोना कर्फ्यू की समय सीमा 31 मई की जगह अब 7 जून तक रह सकता है. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक 31 मई के बाद चरणबद्ध तरीके से पाबंदियों में थोड़ी छूट दी जा सकती है. जबकि रात्रि और साप्ताहिक कर्फ्यू बरकरार रह सकता है. उम्मीद है कि 1 जून से सरकार बाजारों को फिर से खोल सकती है.

इसके साथ ही ऑफिसों को भी सीमित कर्मचारियों के साथ फिर से खोला जा सकता है. योगी सरकार के इस कदम से लोगों को राहत भी मिलेगी और इसके साथ ही सख्ती भी रहेगी. हालांकि केंद्र सरकार के गृह मंत्रालय का स्पष्ट निर्देश है कि 30 जून तक सख्ती को बरकरार रखें, यदि कहीं पर केस कम हैं तो फिर राज्य सरकार अपनी तरफ से निर्णय ले सकती हैं. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साधी नीति के सफल परिणाम का असर है कि प्रदेश के दो जिले महोबा और कासगंज में कोई केस नहीं है. इसके साथ ही 16 जिलों में सिंगल डिजिट में केस हैं, जबकि 53 जिलों में डबल डिजिट में केस हैं.

विवादों में शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चैयरमैन वसीम रिजवी, कुरान की 26 आयतों को लेकर PM मोदी को लिखा पत्र

प्रदेश में संक्रमण की दर में तेजी से गिरावट दर्ज की जा रही है. उत्तर प्रदेश में टेस्ट,ट्रेस और ट्रीट की नीति के अनुरूप योगी सरकार की नीति के सफल परिणाम देखने को मिल रहे हैं. प्रदेश में कोरोना के रोजाना आने वाले मामलों में तेजी से कमी आई है और 3.30 लाख टेस्ट के बावजूद पिछले 24 घंटे में प्रदेश में संक्रमण के 2200 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान प्रदेश में 150 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई. हालांकि रिकवरी दर भी बढ़कर 96.1% हो गई है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज