होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /लॉकडाउन ने यूपी की अर्थव्यवस्था को दी बड़ी चोट, अप्रैल में राजस्व में भारी गिरावट

लॉकडाउन ने यूपी की अर्थव्यवस्था को दी बड़ी चोट, अप्रैल में राजस्व में भारी गिरावट

वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना (File Photo)

वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना (File Photo)

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने ये जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना ...अधिक पढ़ें

लखनऊ. कोरोना (COVID-19) की वजह से लॉकडाउन एक बार फिर बढ़ा दिया गया है. एक तरफ कोरोना से लड़ने में ये लॉकडाउन प्रभावी साबित हो रहा है, वहीं इसका सबसे बुरा असर अर्थव्यवस्था पर पड़ रहा है. स्थिति ये है कि लॉकडाउन ने उत्तर प्रदेश के सरकारी ख़ज़ाने को ज़बरदस्त चपत लगाई है. वित्तीय वर्ष 2020- 2021 के पहले महीने अप्रैल में ही वित्त विभाग के राजस्व में भारी गिरावट आई है.

वित्त विभाग की तरफ़ से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक़ वर्ष 2020-21 के लिए 1,66,021 करोड़ रुपये लक्ष्य निर्धारित है, जिसके सापेक्ष अप्रैल महीने में 2012.66 करोड़ रुपये की ही ही प्राप्त हुई है. ये निर्धारित वार्षिक लक्ष्य का मात्र 1.2 प्रतिशत है. इसी प्रकार टैक्स के रूप में राजस्व के अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए निर्धारित वार्षिक लक्ष्य 19,178.93 करोड़ रुपए के सापेक्ष महज 282.12 करोड़ रुपये की ही प्राप्ति हुई है, जो वार्षिक लक्ष्य 1.5 प्रतिशत है.

नुकसान के बावजूद सरकार वेलफेयर के काम करती रहेगी: वित्त मंत्री

प्रदेश के वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश कुमार खन्ना ने ये जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना की वजह से प्रदेश को भारी नुक़सान हुआ है. उन्होंने कहा कि नुकसान के बावजूद सरकार वेलफेयर के काम करती रहेगी. ग्रीन ज़ोन में कुछ औद्योगिक गतिविधियों को शुरू करना चाहिए.

अतिरिक्त संसाधन जुटाने के लिये प्रयास किये जा रहे हैं

आपको बता दें कि कोविड-19 महामारी को देखते हुए राज्य सरकार की तरफ़ से , मंत्रियों तथा विधायकों के वेतन में 30 प्रतिशत की कटौती की गई है. इसके साथ ही विधायक निधि एक वर्ष के लिये स्थगित कर दी गई है. राज्य सरकार द्वारा राजस्व प्राप्तियों में आई कमी को देखते हुए अतिरिक्त संसाधन जुटाने के लिये प्रयास किये जा रहे हैं.

राज्य सरकार 16 लाख कर्मचारियों को देगी वेतन

हालांकि इस बीच प्रदेश के राजस्व में आई भारी गिरावट के बाद भी राज्य सरकार द्वारा अपने 16 लाख कर्मचारियों और 12 लाख पेंशनरों को उनके माह अप्रैल, 2020 के वेतन और पेंशन का पूरा भुगतान किए जाने के निर्देश जारी किये गये हैं.

ये भी पढ़ें:

अर्जेंट केसों की सुनवाई के लिए आवेदन के तरीके में HC ने किया बदलाव

UP COVID-19 Update: 63 जिलों में 2281 कोरोना पॉजिटिव केस, 1685 एक्टिव मामले

आपके शहर से (लखनऊ)

Tags: Corona Days, Lockdown. Covid 19, Lockdownextention, Lucknow news, Uttarpradesh news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें