मायावती का आरोप- प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ निष्पक्षता से काम नहीं कर रहा चुनाव आयोग

बीएसपी सुप्रीमो ने ट्वीट कर कहा है कि प्रज्ञा ठाकुर धर्मयुद्ध लड़ने की बात कर रही हैं और चुनाव आयोग उनका नामांकन रद्द करने की बजाय सिर्फ नोटिस दे रहा है.

News18 Uttar Pradesh
Updated: April 22, 2019, 10:39 AM IST
मायावती का आरोप- प्रज्ञा ठाकुर के खिलाफ निष्पक्षता से काम नहीं कर रहा चुनाव आयोग
File Photo
News18 Uttar Pradesh
Updated: April 22, 2019, 10:39 AM IST
बहुजन समाज पार्टी अध्यक्ष मायावती ने भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा ठाकुर के बहाने चुनाव आयोग को निशाने पर लिया है. इसके साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी पर भी हमला बोला है. बीएसपी सुप्रीमो ने ट्वीट कर कहा है कि प्रज्ञा ठाकुर धर्मयुद्ध लड़ने की बात कर रही हैं और चुनाव आयोग उनका नामांकन रद्द करने की बजाय सिर्फ नोटिस दे रहा है.

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री ने ट्वीट किया, 'मीडिया की जबरदस्त आलोचनाओं के बावजूद चुनाव आयोग अगर जनसंतोष के मुताबिक निष्पक्षता से काम नहीं कर रहा है तो यह देश के लोकतंत्र के लिए बड़ी चिंता की बात है व इस गिरावट के लिए असली जिम्मेदार कोई और नहीं बल्कि बीजेपी व पीएम श्री मोदी हैं जो गंभीर चुनावी आरोपों से घिरे हैं.'





इसके बाद एक अन्य ट्वीट में उन्होंने लिखा, 'भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी व मालेगांव ब्लास्ट आरोपी साध्वी प्रज्ञा का दावा है कि वे ’धर्मयुद्ध’ लड़ रही हैं. यही है बीजेपी/आरएसएस का असली चेहरा जो लगातार बेनकाब हो रहा है. लेकिन आयोग केवल नोटिसें ही क्यों जारी कर रहा है व बीजेपी रत्न प्रज्ञा का नामांकन क्यों नहीं रद्द कर रहा है?'मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से कांग्रेस ने दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह को टिकट दिया है. बीजेपी से प्रज्ञा ठाकुर यहां से चुनाव मैदान में हैं. हाल ही में प्रज्ञा ठाकुर ने दिग्विजय सिंह से अपनी चुनावी लड़ाई को धर्मयुद्ध करार दिया था. प्रज्ञा के इसी बयान पर मायावती ने निशाना साधा है.

यह भी पढ़ें- बंगाल जाने से पहले योगी का ट्वीट, राज्य में चल रही मोदी सुनामी से दीदी घबरा गई हैं

यह भी पढ़ें- Analysis: UP के इन 7 अभेद्य किलों के लिए BJP का 'मास्टर प्लान'

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार