होम /न्यूज /उत्तर प्रदेश /Lucknow Ramleela: 'मेरे राम' थीम पर होगा लखनऊ रामलीला का मंचन, यहां देखें पूरा शेड्यूल

Lucknow Ramleela: 'मेरे राम' थीम पर होगा लखनऊ रामलीला का मंचन, यहां देखें पूरा शेड्यूल

Lucknow Ramleela: लखनऊ की सबसे भव्य रामलीला का आयोजन आज शाम से होने जा रहा है. इस बार रामलीला आयोजन की थीम 'मेरे राम' ह ...अधिक पढ़ें

रिपोर्ट : अंजलि सिंह राजपूत

लखनऊ. यूपी की राजधानी लखनऊ की सबसे भव्य रामलीला का आयोजन आज (26 सितंबर) से होने जा रहा है. इस बार की रामलीला ‘मेरे राम’ की थीम पर आधारित होगी. यह थीम इस बार इसलिए रखी गई है क्योंकि हर व्यक्ति के मन के अंदर भगवान राम की छवि अलग-अलग है. इस बार श्रीरामलीला समिति ने पूरी रामलीला को त्रेतायुग का माहौल देने पर जोर दिया है. साथ ही इस बार अदृश्य होकर मेघनाथ का युद्ध करना आकर्षण का केंद्र रहेगा. यह रामलीला ऐशबाग के रामलीला मैदान में होगी.

रोजाना शाम को करीब 7:30 बजे से रामलीला का मंचन शुरू होगा, जो रात 11:30 बजे तक चलेगा. पहले दिन रामलीला में गणेश जन्म,आकाशवाणी, श्री राम जन्म, विश्वामित्र का राम को ले जाना, ताड़का वध, सुबाहु वध,अहिल्या उद्धार की लीलाओं का मंचन होगा.

आपके शहर से (लखनऊ)

मंच सजकर हुआ तैयार
इस बार का मंच थोड़ा अलग है क्योंकि इस बार भगवान के सभी रूपों को मंच पर प्रतिमा के रूप में दिखाया जाएगा. साथ ही भव्य लाइट्स एंड साउंड से मंच को भी बेहद रंग बिरंगा बनाया गया है. जो कि देखने बेहद आकर्षित लग रहा है. वहीं, दर्शकों के बैठने की व्यवस्था भी समुचित की गई है. रामलीला कमेटी के सचिव आदित्य द्विवेदी ने बताया कि इस बार का आयोजन बेहद खास होगा. हमारा प्रयास लखनऊ की रामलीला के स्‍तर को बेहतर करने का है.

इस शेड्यूल से 7 अक्टूबर तक होगा मंचन
26 सितंबर- गणेश जन्म,आकाशवाणी,श्री राम जन्म, विश्वामित्र का राम को ले जाना,ताड़का वध, सुबाहु वध,अहिल्या उद्धार.
27 सितंबर-जनक प्रतिज्ञा,धनुष यज्ञ, सीता स्वयंवर,राम जानकी विवाह विदाई.
28 सितंबर-राम राज्याभिषेक, दशरथ कैकई संवाद, वन गमन.
29 सितंबर- दशरथ विलाप, श्रवण कुमार कथा, दशरथ स्वर्ग गमन, कैकई भरत संवाद.
30 सितंबर- भरत राम मिलन, भरत का चरण पादुका लेकर वापस जाना, भरत का महल त्याग.
1 अक्टूबर-सूपर्णखा राम के प्रति आकर्षण, लक्ष्मण द्वारा नाक काटा जाना, उसका रावण दरबार जाना, जटायु वध, सीता खोज, सीता हरण, राम जटायु संवाद.
2 अक्टूबर-राम शबरी मिलन,राम हनुमान मिलन,राम सुग्रीव मिलन,सुग्रीव बालि युद्ध, बालिवध.
3 अक्टूबर-हनुमान सीता संवाद, लंका दहन, रावण हनुमान संवाद
4 अक्टूबर-विभीषण का निष्कासन, समुद्र पूजा, सेतुबंध स्थापना,युद्ध घोषणा, कुंभकरण रावण संवाद, कुंभकरण वध, संजीवनी लाना,मेघनाथ वध.
5‌ अक्टूबर-विजयदशमी, रावण वध,पुतला दहन, आतिशबाजी.
6 अक्टूबर-भरत मिलाप शोभायात्रा, श्रीराम का राज्याभिषेक
7 अक्टूबर-लव कुश लीला, सीता जी का धरती में समा जाना.

Tags: Lord Ram, Lucknow news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें