एक्‍शन में लखनऊ के DM अभिषेक प्रकाश, 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति भूमाफियाओं के चंगुल से छुड़ाई
Lucknow News in Hindi

एक्‍शन में लखनऊ के DM अभिषेक प्रकाश, 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति भूमाफियाओं के चंगुल से छुड़ाई
एक्‍शन में लखनऊ के DM अभिषेक प्रकाश

लखनऊ के जिलाधिकारी (DM) अभिषेक प्रकाश ने कहा है कि तालाब पर कब्जा कर प्लाटिंग करने वाले लोगों के खिलाफ एफआईआर (FIR) दर्ज करा कर उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है.

  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) में तालाब, चरागाह समेत शासकीय भूमि पर कब्जा करने वाले भू माफियाओं (Land Mafia) के खिलाफ लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बड़ा एक्शन लिया है. जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने शुक्रवार को बिजनौर और तेलीबाग में तालाबों का निरीक्षण किया और भू माफियाओं पर कार्रवाई के लिए निर्देश दिए हैं. बिजनौर में डीएम ने 25 एक तालाब की जमीन को खाली करवा कर पर्यटन स्थल के रूप में विकसित करने और बोट क्लब-वाटर पार्क बनाये जाने का निर्देश दिया.

उन्होंने तेलीबाग में अभियान चलाकर 11 बीघा के तालाब की जमीन को खाली कराया गया है. शासकीय भूमियों पर कब्जों को हटाने की अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है. इस कार्रवाई के दौरान 100 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति भूमाफियाओं के चंगुल से छुड़ाई गई. डीएम अभिषेक प्रकाश अपने काफिले के साथ सरोजनी नगर तहसील क्षेत्र स्थित बिजनौर पहुंचे. यहां पर बीते दिनों जिलाधिकारी के निर्देश पर 43 बीघे तालाब पर हो रही अवैध प्लाटिंग को खाली कराकर तालाब बनवा जाने के निर्देश दिए गए थे.

ये भी पढ़ें: COVID-19 Update: UP में कोरोना के एक दिन में रिकॉर्ड 817 नए मामले, संक्रमितों का आंकड़ा पहुंचा 16594



भू माफियाओं द्वारा तालाब की जमीन को बेचा जा रहा था. इस प्रकरण में सरोजनी नगर थाने में दोषियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई जा चुकी है. इस दौरान जिलाधिकारी ने निरीक्षण के दौरान इस भूमि को बड़े तालाब के रूप में विकसित किए जाने हेतु अधिक संख्या में जेसीबी मशीनें लगाने के निर्देश दिए हैं. जिलाधिकारी निरीक्षण के दौरान इस तालाब पर अवैध प्लाटिंग कर रहे लोगों के विरुद्ध तत्काल वैधानिक कार्रवाई करने के निर्देश संबंधित थानाध्यक्ष को दिए.
ये भी पढ़ें: जवानों की शहादत की बात सुन बच्चों का खौला खून, चीन से लड़ने चल पड़े बॉर्डर

लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने कहा है कि तालाब पर कब्जा कर प्लाटिंग करने वाले लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज करा कर उन्हें गिरफ्तार किया जा रहा है. शासकीय जमीनों पर अतिक्रमण करने वाले लोग कान खोल कर सुन ले की उन्हें किसी कीमत पर माफ नहीं किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज