लखनऊ देश में तीसरा सबसे प्रदूषित शहर, यूपी के इन 6 शहरों में वायु प्रदूषण के हालात चिंताजनक

 (सांकेतिक तस्वीर)
(सांकेतिक तस्वीर)

लखनऊ (Lucknow) में छाई धुंध और हवा की कम रफ्तार के चलते शुक्रवार को प्रदूषण का स्तर गंभीर स्थिति में पहुंच गया. वहीं मुरादाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, कानपुर, बागपत सहित कई शहरों की हालत चिंताजनक है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2020, 10:01 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. देश में वायु प्रदूषण (Air Pollution) के मामले में उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कई शहरों में स्थिति चेतावनी भरी है. स्थिति ये है कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ (Lucknow) सहित आधा दर्जन शहर देश के सबसे प्रदूषित शहरों की लिस्ट में शामिल हैं. लखनऊ में छाई धुंध और हवा की कम रफ्तार के चलते शुक्रवार को प्रदूषण का स्तर गंभीर स्थिति में पहुंच गया. वहीं मुरादाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, कानपुर, बागपत सहित कई शहरों की हालत चिंताजनक है. उधर प्रशासन सड़कों और पेडों पर पानी के छिड़काव के प्रयास कर रहा है लेकिन ये नाकाफी साबित हो रहे हैं. इसके अलावा तमाम जिलों में पराली जलाने पर एफआईआर से लेकर गिरफ्तारी तक की कार्रवाई हो रही हे लेकिन नतीजे दिखाई नहीं दे रहे हैं.

सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के एअर क्वालिटी इंडेक्स (AQI) के मुताबिक, लखनऊ का एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 447 माइक्रोग्राम प्रति घन मीटर की गंभीर स्थिति तक पहुंच गया है. इसके साथ ही लखनऊ देश के तीसरा सबसे प्रदूषित शहर बन गया है. पहले स्थान पर हरियाणा का फतेहाबाद शहर है, जहां का एक्यूआई 466 है, वहीं दूसरे नंबर पर यूपी का मुरादाबाद है यहां 457 एक्यूआई रिकॉर्ड किया गया है.

इसके अलावा लखनऊ से सटे कानपुर शहर का भी हाल बेहाल है. ये शहर देश के चौथे सबसे प्रदूषित शहर में शुमार हो गया है.



बात एक्यूआई की करें तो कानपुर में 441, गाजियाबाद 433, ग्रेटर नोएडा 421, नोएडा 406 एक्यूआई आया है. एक्सपर्ट के अनुसार प्रदूषण में ये इजाफा पिछले कुछ दिनों से हवा का नहीं चलना है, इससे धुंध छाई हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज