Lucknow News: भगोड़ा आईपीएस अरविंद सेन यादव एंटी करप्शन कोर्ट में कर सकता है सरेंडर

फरार आईपीएस अरविन्द सेन यादव आज कोर्ट में कर सकता है सरेंडर

Lucknow News: इससे पहले सोमवार को सीबीसीआईडी के तत्कालीन एसपी और वर्तमान डीआईजी अरविंद सेन की अग्रिम जमानत याचिका हाईकोर्ट ने खारिज कर दी थी.

  • Share this:
लखनऊ. पशुधन विभाग में फर्जी टेंडर घोटाले (Fake Tender Scam) के आरोपी भगोड़ा आईपीएस अरविंद सेन यादव (IPS Arvind Sen Yadav) बुधवार को एंटी करप्शन कोर्ट (Anti Corruption Court) में सरेंडर कर सकता है. इस बाबत अरविंद सेन के वकील ने कोर्ट को मौखिक आश्वासन दिया था. जिसके बाद आज सरेंडर याचिका पर सुनवाई होगी. बता दें पशुधन विभाग के फ़र्ज़ी टेंडर घोटाला मामले में वादी को धमका कर वसूली का आरोप अरविंद सेन पर लगा है. मामले में एफआईआर दर्ज होने के बाद से ही अरविन्द सेन फरार चल रहे हैं. पुलिस ने उनके ऊपर पहले 25 हजार का इनाम घोषित किया था. जिसके बाद इनाम की राशि बढाकर 50 हजार कर दी गई. इसके बाद भी अरविन्द सेन को पकड़ने में पुलिस नाकाम साबित हुई.

इससे पहले सोमवार को सीबीसीआईडी के तत्कालीन एसपी और वर्तमान डीआईजी अरविंद सेन की अग्रिम जमानत याचिका हाईकोर्ट ने खारिज कर दी थी. गिरफ्तारी के डर से अरविंद सेन काफी दिनों से फरार चल रहे हैं. पुलिस ने लखनऊ और उनके पैतृक आवास अयोध्या में डुगडुगी पिटवा कर उन्हें फरार घोषित कर दिया है. गिरफ्तारी के डर से उन्होंने हाईकोर्ट में अग्रिम जमानत याचिका दायर की थी जिसे सोमवार को खारिज कर दिया गया.

ये है पूरा मामला 

पशुपालन विभाग में आपूर्ति के नाम पर इंदौर के व्यापारी से करोड़ों रुपये हड़पने के आरोपियों को बचाने के लिए 35 लाख रुपये लेने के आरोप हैं. इस मामले में हजरतगंज थाने में मुकदमा दर्ज होने के बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया था. हालांकि लगातार फरार चलने की वजह से उन्हें भगोड़ा घोषित करते हुए पुलिस कुर्की की कार्रवाई में जुटी थी.