दिख रहा CM योगी के '3T' फॉर्मूले का असर, पिछले 24 घंटे में 3.12 लाख टेस्ट और सिर्फ 1497 लोग मिले पॉजिटिव

सीएम योगी आदित्यनाथ (File Photo)

सीएम योगी आदित्यनाथ (File Photo)

UP Corona Cases: सीएम योगी ने 3T यानी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट का फार्मूला दिया. यूपी का यह मॉडल हिट हुआ. यही वजह है कि रविवार को 3.12 लाख टेस्ट के बावजूद पिछले 24 घंटे में सिर्फ 1497 पाजिटिव केस मिले. अब रिकवरी रेट भी 96.6 प्रतिशत हो गई है.

  • Share this:

लखनऊ. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में कोरोना की दूसरी लहर (Corona Second Wave) नियंत्रण लगता दिख रहा है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) जबसे खुद ग्राउंड जेरो पर उतारकर कोरोना मैनेजमेंट की निगरानी कर रहे हैं, उसके बाद से लगातार संक्रमण की दर में गिरवाट देखने को मिल रही है. अप्रैल में जहां एक दिन में 35 हजार से ज्यादा संक्रमित मरीज मिल रहे थे, वहीं 30 मई को प्रदेश महज 1497 नए संक्रमित मिले हैं.

दरअसल कोरोना को हारने के बाद जब 30 अप्रैल को मुख्यमंत्री ने कोरोना पर नियंत्रण की कमान संभाली उस वक्त स्थित बेकाबू हो चुकी थी. इसके बाद सीएम योगी ने 3T यानी ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट का फार्मूला दिया. यूपी का यह मॉडल हिट हुआ. यही वजह है कि रविवार को 3.12 लाख टेस्ट के बावजूद पिछले 24 घंटे में सिर्फ 1497 पाजिटिव केस मिले. अब रिकवरी रेट भी 96.6 प्रतिशत हो गई है.

कम हो रहे कोरोना के मामले

गौरतलब है कि जहां अन्य राज्यों ने पूर्ण लाकडाउन लगाया था, पर यूपी ने आंशिक करोना कर्फ्यू लगाकर बेहतरीन यूपी मॉडल पेश किया. इस दौरान आर्थिक गतिविधियां चलती रहीं और कोरोना घटता रहा. आंशिक कर्फ्यू के दौरान भी गेहूं खरीद हुई, चीनी मिलें चलती रहीं और व्यापारिक कार्य होते रहे. अब जब मामले लगातार काम हो रहे हैं, ऐसे में सरकार ने 1 जून से उन 55 जिलों में कोरोना कर्फ्यू से ढील दी है जहां एक्टिव केसों की संख्या 600 से कम है. उम्मीद जताई जा रही है कि आने वाले दिनों में अन्य 20 जिलों में भी ढील दी जा सकती है, जहां सक्रिय मामलों की संख्या 600 से ज्यादा है.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज