लखनऊ: सेकंड लाइन के कोरोना योद्धाओं को किया जा रहा तैयार, शुरू हुई नर्सिंग कक्षाएं
Lucknow News in Hindi

लखनऊ: सेकंड लाइन के कोरोना योद्धाओं को किया जा रहा तैयार, शुरू हुई नर्सिंग कक्षाएं
नर्सिंग कक्षाएं जारी हैं.

उत्तर प्रदेश सरकार में प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ रजनीश दुबे के निर्देश के बाद "बाबा हॉस्पिटल एंड इंस्टिट्यूट ऑफ पैरामेडिकल" ने बीएससी नर्सिंग अंतिम वर्ष की कक्षाओं में अध्ययन और अध्यापन का काम सुचारू रूप से शुरू कर दिया है.

  • Share this:
लखनऊ. राजधानी लखनऊ (Lucknow) के चिनहट इलाके में स्थित बाबा एजुकेशनल सोसायटी (Baba Educational Society) के तहत दो दशकों से पैरामेडिकल, नर्सिंग और फार्मेसी की शिक्षा के लिए प्रसिद्ध "बाबा हॉस्पिटल एंड इंस्टिट्यूट ऑफ पैरामेडिकल" ने एक बार फिर से नया कीर्तिमान बनाया है. कोविड-19 की वैश्विक महामारी के बीच में "बाबा इंस्टिट्यूट" की नर्सिंग छात्र-छात्राएं कदम से कदम मिलाते हुए काम करते नजर आ रहे हैं. उत्तर प्रदेश सरकार में प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा डॉ रजनीश दुबे के निर्देश के बाद "बाबा हॉस्पिटल एंड इंस्टिट्यूट ऑफ पैरामेडिकल" ने बीएससी नर्सिंग अंतिम वर्ष की कक्षाओं में अध्ययन और अध्यापन का काम सुचारू रूप से शुरू कर दिया है.

न्यूज़18 की टीम ने बाबा इंस्टीट्यूट कैंपस का जब दौरा किया तो साफ तौर से पाया कि कोविड-19 के प्रोटोकॉल को जबरदस्त तरीके से अमल में लाया जा रहा है. साथ ही कक्षाओं में सोशल डिस्टेंसिंग, छात्राओं को मास्क , सेनेटाइजर और हेड कवर भी दिए गए हैं. बीएससी नर्सिंग की आखिरी साल की छात्राओं की कक्षाओं को शुरू करने के पीछे तर्क यह है कि कोविड-19 जिस तरह से प्रदेश और देश में पैर पसार रहा है उसके लिए सेकंड लाइन के कोरोना योद्धाओं को तैयार करना बेहद जरूरी है. प्रदेश भर में फैले नर्सिंग के कॉलेजों को कहा गया है कि वह इस महामारी से लड़ने के लिए नर्सिंग की छात्र और छात्राओं को पूरी तरह से तैयार रखें. बाबा हॉस्पिटल एंड इंस्टिट्यूट ऑफ पैरामेडिकल नर्सिंग में मौजूदा वक्त में सभी छात्राओं को प्रोटोकॉल का साथ ट्रेनिंग दी जा रही. हालात को और बेहतर बनाने के लिए नर्सिंग के सभी सीनियर स्टाफ पूरी तन्मयता के साथ लगे हुए हैं.

बाबा हॉस्पिटल एंड रिजल्ट ऑफ पैरामेडिकल की नर्सिंग विंग की प्रिंसिपल लुबना का कहना है कि शासन के निर्देश पर हमारे यहां कक्षाएं सुचार रूप से चल रही हैं. कोविड-19 के प्रोटोकॉल का हम पूरी तरह से पालन कर रहे हैं. बीएससी नर्सिंग अंतिम वर्ष की कक्षाओं को चलाने के पीछे हमारा मकसद है कि हम एक ऐसी पीढ़ी को तैयार रखें जो जरूरत पड़ने पर कोविड-19 महामारी के युद्ध में अपना अहम रोल अदा कर सकें.



ये भी पढ़ें:
Unlock 1.0 : यूपी में कल से खुल जाएंगे सैलून और पार्लर, माननी होंगी ये शर्तें

Unlock 1.0: ठेला और खोमचा लगाने वालों को बड़ी राहत, दुकान खोलने की मिली अनुमति
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज